Book Free Appointment

Call Us

About Diabetic Foot Ulcers

डायबिटीज एक सामान्य बीमारी है जो शरीर में ब्लड शुगर बढ़ने के कारण उत्पन्न होता है। डायबिटीज के कारण अक्सर पैरों में छाले या घाव हो जाते हैं। इन छालों या घावों पर ध्यान नहीं देने के कारण आगे जाकर इनमें इंफेक्शन हो जाता है और ये गंभीर रूप ले लेते हैं। जब ये मामूली छाले या घाव गंभीर रूप ले लेते हैं तो इन्हें मेडिकल की भाषा में डायबिटिक फुट अल्सर कहा जाता है। शोध के मुताबिक, डायबिटीज से पीड़ित लगभग 10% मरीज अपने जीवन में कम से कम एक बार डायबिटिक फुट अल्सर से अवश्य पीड़ित होते हैं।

USFDA-Approved Procedures

USFDA-Approved Procedures

Support in Insurance Claim

Support in Insurance Claim

No-Cost EMI

No-Cost EMI

1-day Hospitalization

1-day Hospitalization

Pristyn Care Doctors

ओवरव्यू

know-more-about-Diabetic Foot Ulcers-treatment-in-Mumbai
दर्द रहित इलाज क्यों?
  • दर्द नहीं होता है
  • ब्लीडिंग का खतरा कम होता है
  • बहुत ही प्रभावशाली इलाज है
  • उसी दिन इलाज और डिस्चार्ज
मॉडर्न इलाज में देरी न करें
  • मॉडर्न और एडवांस ट्रीटमेंट
  • रिकवरी काफी जल्दी होती है
  • संक्षिप्त और सुरक्षित प्रक्रिया
  • जटिलताओं की संभावना कम
प्रिस्टीन केयर क्यों चुनें?
  • विश्वसनीय सर्जन
  • 100% इंश्योरेंस क्लेम
  • डीलक्स रूम की सुविधा
  • गोपनीय परामर्श उपलब्ध
  • सर्जरी के बाद फ्री फॉलो-अप्स मीटिंग
  • सभी डायग्नोस्टिक टेस्ट पर 30% छूट
बिना झंझट का इंश्योरेंस क्लेम
  • सभी प्रकार के इंश्योरेंस का लाभ
  • Pristyn Care टीम द्वारा सभी प्रकार के पेपरवर्क(on behalf of patient)
  • इंश्योरेंस के लिए कहीं भटकने की कोई जरूरत नहीं
  • कोई अग्रिम भुगतान नहीं
Doctor-performing-Diabetic Foot Ulcers-surgery-in-Mumbai

उपचार

जांच

डायबिटिक फुट अल्सर की गंभीरता का पता लगाने के लिए डॉक्टर अनेकों जांच करते हैं। सबसे पहले डॉक्टर मरीज की शारीरिक जांच करते हैं। उसके बाद, लक्षणों से संबंधित कुछ प्रश्न पूछते हैं और मरीज की मेडिकल हिस्ट्री के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं। शारीरिक जांच के दौरान डॉक्टर खरोच, कट या छाले का पता लगाते हैं। मरीज के पैरों में खून के प्रवाह का मूल्यांकन करने के लिए डॉक्टर पल्स को महसूस करते हैं। शारीरिक जांच के अलावा, डॉक्टर हड्डियां कम होने के कारण पैरों में किसी भी तरह की गड़बड़ी की पुष्टि करने के लिए एक्स-रे करने का सुझाव दे सकते हैं। साथ ही, एमआरआई स्कैन भी किया जा सकता है ताकि यह पता लगाया जा सके कि अल्सर से कितना नुकसान हुआ है। एमआरआई की मदद से इंफेक्शन के लक्षणों की पुष्टि की जाती है। इन सबके अलावा, डॉक्टर ब्लड टेस्ट का सुझाव दे सकते हैं ताकि बीमारी की गंभीरता को अच्छी तरह से समझा जा सके। इन सभी जांचों के बाद डॉक्टर सर्जरी की प्रक्रिया को शुरू करते हैं।

सर्जरी

डायबिटिक फुट अल्सर के प्रमुख कारणों में से एक आर्टरी का संकुचित होना और खराब ब्लड सर्कुलेशन है। इसलिए ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाने के लिए सर्जरी की आवश्यकता होती है। एथेरेक्टॉमी एक सर्जिकल प्रक्रिया है जिससे पेरिफेरल आर्टरी डिजीज के कारण उत्पन्न डायबिटिक फुट अल्सर का इलाज किया जाता है। इस प्रक्रिया के दौरान फैट, कोलेस्टेरोल और कैल्सियम से युक्त पट्टिका को आर्टरी से बाहर निकाल दिया जाता है जिससे आर्टरी चौड़ा और ब्लड सर्कुलेशन बेहतर हो जाता है।

इस सर्जरी को एनेस्थीसिया के प्रभाव में किया जाता है। इसलिए सर्जरी के दौरान मरीज को जरा भी दर्द या दूसरी किसी तरह की परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ता है। कुछ मामलों में एथेरेक्टॉमी के बाद बैलून एंजियोप्लास्टी की भी आवश्यकता पड़ सकती है। बैलून एंजियोप्लास्टी के दौरान रक्त वाहिका को खुला रखने के लिए एक स्टेंट का इस्तेमाल किया जाता है। आर्टरी में एडवांस ब्लॉकेज या पैर में गैंग्रीन या घाव होने पर डॉक्टर बाईपास सर्जरी कर सकते हैं। लेग बाईपास एक नए मार्ग का निर्माण करता है ताकि खून ब्लॉक आर्टरी के चारों ओर जा सके और पैर में प्रॉपर ब्लड फ्लो को मेंटेन किया जा सके।

एथेरेक्टॉमी सर्जरी को पूरा होने में लगभग 2 घंटे का समय लगता है। सर्जरी खत्म होने के बाद उसी दिन मरीज को हॉस्पिटल से डिस्चार्ज कर दिया जाता है। अगर आप डायबिटिक फुट अल्सर से पीड़ित हैं और मुंबई में इसका बेस्ट इलाज पाना चाहते हैं तो अभी प्रिस्टीन केयर से संपर्क कर सकते हैं। हमारी क्लिनिक में मॉडर्न और एडवांस एथेरेक्टॉमी से डायबिटिक फुट अल्सर का इलाज किया जाता है।

In Our Doctor's Word

What-Dr Maunil Bhutta-Say-About-Diabetic Foot Ulcers-Treatment

Dr Maunil Bhutta

MBBS, MS

8 Years Experience

"A Diabetic Foot Ulcer is extremely common and happens in at least 1 of every 10 diabetic patients. The reason is the slowed healing in diabetic patients. However, if the ulcer persists, I suggest you seek immediate medical help because delay in the treatment can lead to unwanted abscess, infections, foot deformities and may demand amputation in cases of gangrene. Therefore, if you are a diabetic patient and your wound refuses to heal/ appears ulcer, please do not wait until it severes or crosses your pain limit. This will serve no benefit and only complicate the treatment and risk amputation. "

Why Pristyn Care?

Delivering Seamless Surgical Experience in India

01.

Pristyn Care is COVID-19 safe

Your safety is taken care of by thermal screening, social distancing, sanitized clinics and hospital rooms, sterilized surgical equipment and mandatory PPE kits during surgery.

02.

Assisted Surgery Experience

A dedicated Care Coordinator assists you throughout the surgery journey from insurance paperwork, to free commute from home to hospital & back and admission-discharge process at the hospital.

03.

Medical Expertise With Technology

Our surgeons spend a lot of time with you to diagnose your condition. You are assisted in all pre-surgery medical diagnostics. We offer advanced laser and laparoscopic surgical treatment. Our procedures are USFDA approved.

04.

Post Surgery Care

We offer free follow-up consultations and instructions including dietary tips as well as exercises to every patient to ensure they have a smooth recovery to their daily routines.

Pristyn Care in Numbers

2M+

Happy Patients

150+

Clinics

45+

Cities

150K+

Surgeries

400+

Doctors

800+

Hospitals

अधिकांश पूछे जाने वाले प्रश्न

डायबिटिक फुट अल्सर का बेस्ट इलाज क्या है?

एथेरेक्टॉमी को डायबिटिक फुट अल्सर का बेस्ट इलाज माना जाता है। यह एक सर्जिकल प्रक्रिया है जिसके दौरान फैट, कोलेस्टेरोल और कैल्सियम से युक्त पट्टिका को आर्टरी से बाहर निकाल दिया जाता है। नतीजतन, आर्टरी चौड़ा और ब्लड सर्कुलेशन बेहतर हो जाता है जिसकी वजह से प्रभावित हिस्सा तेजी से ठीक होने लगता है।

क्या डायबिटिक फुट अल्सर की सर्जरी में दर्द होता है?

एथेरेक्टॉमी सर्जरी को एनेस्थीसिया के प्रभाव में किया जाता है। इसलिए इस सर्जरी के दौरान मरीज को दर्द या दूसरी किसी तरह की परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ता है।

डायबिटिक फुट अल्सर होने पर क्या करना चाहिए?

डायबिटिक फुट अल्सर होने पर आपको तुरंत एक विशेषज्ञ डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए। यह एक गंभीर बीमारी है जिसका समय पर उचित जांच और इलाज आवश्यक है। डायबिटिक फुट अल्सर का इंफेक्शन बहुत तेजी से फैलता है जो आगे जाकर जानलेवा भी साबित हो सकता है।

डायबिटिक फुट अल्सर की सर्जरी में कितना खर्च आता है?

डायबिटिक फुट अल्सर की सर्जरी को एथेरेक्टॉमी कहा जाता है। इस सर्जरी का खर्च तय नहीं है। क्योंकि इसका खर्च काफी चीजों पर निर्भर करता है जैसे कि:-

डायबिटिक फुट अल्सर से प्रभावित क्षेत्र,प्रभावित क्षेत्र का आकार,बीमारी की गंभीरता,सर्जन का अनुभव,हॉस्पिटल का लोकेशन और विश्वसनीयता,सर्जरी से पहले किए जाने वाले जांच,सर्जरी के बाद हॉस्पिटलाइजेशन,सर्जरी के बाद की दवाएं,सर्जरी के बाद फॉलो-अप्स मीटिंग

अगर आप डायबिटिक फुट अल्सर से पीड़ित हैं और मुंबई में उसका बेस्ट और कॉस्ट इफेक्टिव इलाज कराना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें।

डायबिटिक फुट अल्सर की सर्जरी को पूरा होने में कितना समय लगता है?

एथेरेक्टॉमी एक सुरक्षित सर्जिकल प्रक्रिया है जिसे पूरा होने में लगभग २ घंटे का समय लगता है। अगर आप मात्र एक दिन में डायबिटिक फुट अल्सर का बेस्ट इलाज पाना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें।

मुंबई में डायबिटिक फुट अल्सर का सर्जिकल इलाज पाएं

अगर आपको डायबिटिक फुट अल्सर है और इसके कारण अल्सर के आसपास सूजन होता है, अल्सर से बदबूदार द्रव निकलता है, अल्सर के आसपास गर्म महसूस होता है, अल्सर के आसपास की त्वचा का रंग बिगड़ गया है, अल्सर को छूने पर दर्द और कठोरता महसूस होती है, बुखार है और ठंड लगती है, अल्सर के आसपास की त्वचा पपड़ीदार या मोटी हो गई है तो आपको जल्द से जल्द एक अनुभवी डॉक्टर से मिलकर इसका उचित जांच और इलाज कराना चाहिए। मेडिकल साइंस में विकास होने के कारण आज मुंबई में एथेरेक्टॉमी सर्जरी की सुविधा उपलब्ध है। इसलिए आपको दूसरे शहर में जाने की जरूरत नहीं है। अगर आपको डायबिटिक फुट अल्सर है तो एक अनुभवी और कुशल वैस्कुलर सर्जन से परामर्श करने के बाद एथेरेक्टॉमी सर्जरी करा सकते हैं। यह एक सरल और सफल सर्जिकल प्रक्रिया है जिससे आपकी बीमारी को बहुत आसानी से ठीक किया जा सकता है।

प्रिस्टीन केयर से डायबिटिक फुट अल्सर का बेस्ट इलाज कराएं

हमारी क्लिनिक में एथेरेक्टॉमी सर्जरी से डायबिटिक फुट अल्सर का इलाज किया जाता है। यह एक मॉडर्न और एडवांस सर्जिकल प्रक्रिया है जिसे डायबिटिक फुट अल्सर का बेस्ट इलाज माना जाता है। हमारी क्लिनिक में इस सर्जरी को अनुभवी और कुशल वैस्कुलर सर्जन के द्वारा पूरा किया जाता है। हमारे सर्जन को इस बीमारी की गहरी समझ और एथेरेक्टॉमी में सालों का अनुभव प्राप्त है। ये सर्जन अब तक डायबिटिक फुट अल्सर की अनेकों सफल सर्जरी कर चुके हैं। हम कॉस्ट इफेक्टिव एथेरेक्टॉमी सर्जरी करने के साथ-साथ मरीज को ढेरों सुविधाएं प्रदान करते हैं जिसमें सर्जरी वाले दिन फ्री पिकअप और ड्रॉप (सर्जरी से पहले मरीज को घर से क्लिनिक लाना और सर्जरी खत्म होने के बाद क्लिनिक से वापस घर छोड़ना), सभी जांचों पर 30% तक की छूट और सर्जरी के बाद कुछ दिनों तक फ्री फॉलो-अप्स मीटिंग आदि शामिल हैं। अगर आप बिना किसी परेशानी का सामना किए मुंबई में डायबिटिक फुट अल्सर का बेस्ट और कॉस्ट इफेक्टिव इलाज पाना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें। हमसे संपर्क करने के लिए आप ऊपर दिए गए मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी या बुक अप्वाइंटमेंट फॉर्म का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Read More
Create-Ayushman-Bharat-ABHA-ID
Get-Covid-19-Booster-Dose
Diabetic Foot Ulcers Surgery in Other Near By Cities
expand icon
Other Treatments in Mumbai
expand icon