location
Get my Location
search icon
phone icon in white color

कॉल करें

निःशुल्क परामर्श बुक करें

खतना - नुकसान , देखभाल, फायदे - Circumcised Meaning in Hindi

खतना करवाने का आसान तरीका है लेजर खतना या स्टेपलर खतना। प्रिस्टीन केयर पर खतना करवाने की ये दोनों प्रक्रिया बेहद ही आसान और दर्द रहित होती है। इन दोनों खतना प्रक्रिया में आपको ना दर्द होगा और ना ही कोई घाव होगा, बस 10 मिनट में ये प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

खतना करवाने का आसान तरीका है लेजर खतना या स्टेपलर खतना। प्रिस्टीन केयर पर खतना करवाने की ये दोनों प्रक्रिया बेहद ही आसान ... और पढ़ें

anup_soni_banner
डॉक्टर से फ्री सलाह लें
Anup Soni - the voice of Pristyn Care pointing to download pristyncare mobile app
i
i
i
i
Call Us
स्टार रेटिंग
2 M+ संतुष्ट मरीज
700+ हॉस्पिटल
40+ शहर

आपके द्वारा दी गई जानकारी सुनिश्चित करने के लिए कृप्या ओटीपी डालें *

i

40+

शहर

Free Consultation

निशुल्क परामर्श

Free Cab Facility

मुफ्त कैब सुविधा

No-Cost EMI

नो-कॉस्ट ईएमआई

Support in Insurance Claim

बीमा क्लेम में सहायता

1-day Hospitalization

सिर्फ एक दिन की प्रक्रिया

USFDA-Approved Procedure

यूएसएफडीए द्वारा प्रमाणित

प्रिस्टीन केयर में खतना के लिए डॉक्टर

Choose Your City

It help us to find the best doctors near you.

अहमदाबाद

बैंगलोर

भुवनेश्वर

चंडीगढ़

चेन्नई

कोयंबटूर

देहरादून

दिल्ली

हैदराबाद

इंदौर

जयपुर

कोच्चि

कोलकाता

कोझिकोड

लखनऊ

मदुरै

मुंबई

नागपुर

पुणे

राँची

तिरुवनंतपुरम

विजयवाड़ा

विशाखापट्टनम

दिल्ली

गुडगाँव

नोएडा

अहमदाबाद

बैंगलोर

  • online dot green
    Dr. Sanjeev Gupta (zunvPXA464)

    Dr. Sanjeev Gupta

    MBBS, MS- General Surgeon
    25 Yrs.Exp.

    4.9/5

    25 + Years

    Delhi

    General Surgeon

    Laparoscopic Surgeon

    Proctologist

    Call Us
    6366-528-442
  • online dot green
    Dr. Milind Joshi (g3GJCwdAAB)

    Dr. Milind Joshi

    MBBS, MS - General Surgery
    23 Yrs.Exp.

    4.7/5

    23 + Years

    Pune

    General Surgeon

    Proctologist

    Laparoscopic Surgeon

    Call Us
    6366-528-442
  • online dot green
    Dr. Amol Gosavi (Y3amsNWUyD)

    Dr. Amol Gosavi

    MBBS, MS - General Surgery
    23 Yrs.Exp.

    4.7/5

    23 + Years

    Mumbai

    Laparoscopic Surgeon

    General Surgeon

    Proctologist.

    Call Us
    6366-528-442
  • online dot green
    Dr. Pankaj Sareen (5NJanGbRMa)

    Dr. Pankaj Sareen

    MBBS, MS - General Surgery
    20 Yrs.Exp.

    4.9/5

    20 + Years

    Delhi

    General Surgeon

    Laparoscopic Surgeon

    Proctologist

    Laser Specialist

    Call Us
    6366-528-442
  • खतना क्या है?- What is Khatna (Circumcision)?

    लिंग की ऊपरी त्वचा को हटा देना ही खतना (Circumcision) है। कुछ धर्मों में पुरुषों के लिंग की उस त्वचा को काट दिया जाता है जिससे लिंग का ऊपरी हिस्सा (सिर) ढका हुआ होता है। दुनिया के बहुत से देशों में बच्चों का खतना किया जाता है। कम उम्र में चमड़ी मुलायम होती है, इसलिए इन्हें काटने में ज्यादा दर्द नहीं होता। कई संप्रदाय की किताबों में भी खतना की बात की गयी है। खतना शब्द का जन्म लैटिन भाषा से हुआ है। यहूदी साम्प्रदायिकता में माना जाता है कि खतना का आदेश उनके ईश्वर ने दिया है। मुस्लिम और अफ्रीकन देशों में कुछ ईसाई भी खतना करवाते हैं।

    खतना(khatna) करते वक्त जो त्वचा काट दी जाती है वह दोबारा नहीं बढ़ती इसलिए खतना करवा लेने के बाद लिंग का ऊपरी हिस्सा हमेशा खुला रहता है। बहुत से लोग खतना को लाभदायक मानते हैं और इनके फायदे गिनाते हैं। वहीं कुछ लोग खतना का विरोध करते आए हैं। साथ ही कई देशों में महिलाओं का भी खतना किया जाता है।

    • बीमारी का नाम

    फाइमोसिस

    • सर्जरी का नाम

    लेजर खतना - फोरस्किन हटाने का ऑपरेशन

    • अवधि

    15 से 30 मिनट

    • सर्जन

    जनरल सर्जन

    लेजर खतना सर्जरी की कीमत जांचे

    वास्तविक कीमत जाननें के लिए जानकारी भरें

    i
    i
    i

    आपके द्वारा दी गई जानकारी सुनिश्चित करने के लिए कृप्या ओटीपी डालें *

    i

    खतना करने की एडवांस एवं मॉडर्न प्रक्रिया क्या है?

    लेजर खतना प्रक्रिया

    इसमें लेजर बीम की मदद से 10 मिनट के अंदर ही लिंग के सिर की ऊपरी चमड़ी को हटाया जाता है। इस प्रक्रिया में दर्द नहीं होता और ना ही खून निकलता है। यानी इस प्रक्रिया को करवाने के बाद आपको किसी तरह की कोई दिक्कतें नहीं होती है, इसके साथ-साथ इस खतना प्रक्रिया के बाद रिकवरी भी जल्दी हो जाता है। लेजर खतना करवाने के एक दिन बाद से ही मरीज़ अपने काम पर जा सकते हैं। इस खतना प्रक्रिया में कोई चीरा नहीं लगाया जाता है यानी कोई घाव का निशान नहीं होता और अगर चीरा नहीं लगेगा तो टांके भी नहीं लगेंगे और ना ही कोई खून बहेगा। खतना प्रक्रिया की सबसे आरामदायक प्रक्रिया है लेजर खतना।

    स्टेपलर खतना प्रक्रिया

    यह भी एक प्रकार की मॉडर्न और एडवांस खतना प्रक्रिया है, जिसमें लिंग के ऊपरी चमड़ी को एक स्टेपलर की तरह दिखने वाले उपकरण से काट दिया जाता है। स्टेपलर खतना प्रक्रिया एक विशेष खतना तकनीक है जो पारंपरिक टांके के बजाय कटे हुए त्वचा के किनारों को काटने और सील करने के लिए सर्जिकल स्टेपलर का उपयोग करती है। पारंपरिक खतना में, सर्जन को पहले चाकू से त्वचा को काटना होता है और फिर उसे सिलना होता है।

    स्टेपलर खतना प्रक्रिया तकनीक में, स्टेपल के साथ सिलाई और कटिंग डिवाइस द्वारा की जाती है। इस प्रक्रिया में चमड़ी को स्टेपलर से पूरी तरह से काट दिया जाता है, जिससे प्रक्रिया के बाद कम दर्द होता है। स्टेपलर खतना में घाव नहीं होते हैं और ना ही खून निकलता है, इसके अलावा इस प्रक्रिया को करवाने के बाद मरीज़ों की रिकवरी भी जल्द हो जाती है और कोई दांतेदार किनारा नहीं बचता।

    क्या आप इनमें से किसी लक्षण से गुज़र रहे हैं?

    महिलाओं व पुरुषो में खतना

    महिलाओं का खतना — Circumcision of Women in Hindi

    खतना सिर्फ पुरुषों में ही नहीं बल्कि महिलाओं में भी होता है। महिलाओं के योनि की बाहरी त्वचा को काट दिया जाता है। महिलाओं में खतना का कुछ फायदा नहीं है, बल्कि इससे उन्हें परेशानी ही होती है। महिलाओं में खतना के बाद खून बहता है, जिससे शरीर में खून की कमी हो सकती है।

    दूसरे खतरनाक रोग जैसे ओवेरी में गांठ, यूरिन मार्ग में संक्रमण और पेशाब से संबंधित परेशानियां हो सकती हैं। कुछ दिनों तक पेशाब करते समय तेज दर्द का सामना करना भी पड़ सकता है। लड़कियों का खतना उनके 15 साल का होने के पहले ही कर दिया जाता है।

    आज हर क्षेत्र में प्रगति हो रही है, लेकिन कुछ रूढ़िवादी लोग महिलाओं के खतना को आदर्श बताते हैं। हमें अपने समाज के सोच को सुधारना चाहिए और महिलाओं का खतना के खिलाफ आवाज उठानी चाहिए।

    पुरुषों का खतना — Circumcision of Men in Hindi

    पुरुष के खतना के दौरान लिंग के बाहर की स्किन को काटकर निकाल दिया जाता है। बच्चों का खतना करने में ज्यादा से ज्यादा 10 मिनट का समय लगता है। ग्रामीण इलाकों में बच्चों का खतना करते वक्त किसी प्रकार के एनेस्थीसिया (Anesthesia) (बेहोश करने वाली दवा) का उपयोग नहीं किया जाता है। सभी प्रकार के रस्म के साथ पुरुषों का खतना करने में लगभग 1 घंटे का समय लगता है।

    हालांकि, तकनीकीकरण के कारण खतना करने की मॉडर्न विधि (लेजर और स्टेपलर) आ चुकी है और इनके जरिए खतना  10 से 20 मिनट में ही हो जाता है। वहीं बच्चा या पुरुष अगले दिन से ही अपने काम पर जा सकता है, क्योंकि कोई रक्तस्त्राव नहीं होता है। 20 सप्ताह के भीतर रोगी का लिंग सेक्स के लिए तैयार हो जाता है, हालांकि सेक्स करने के पहले एक बार अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।

    खतना करवाने के बाद बच्चे का विशेष ख्याल रखना होता है। स्वास्थ्य विभाग इस बात से सहमत हैं कि छोटे बच्चों का खतना उनके लिए अच्छा है। इसके अलावा फाइमोसिस (phimosis) की समस्या होने पर या लिंग में संक्रमण की स्थिति में भी खतना कर दिया जाता है। फाइमोसिस में लिंग की ऊपरी त्वचा कठोर हो जाती है।

    खतना के फायदे - Benefits of Circumcision in Hindi

    खतना से कई स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं जो इस प्रकार हैं;

    पेनिस साफ करना आसान हो जाता है

    पेनिस को धोने और साफ करने के लिए ज्यादा परेशानी नहीं होती है। लिंग की ऊपरी स्किन निकल जाने के कारण लिंग को आसानी से धुला जा सकता है।

    यूरिन इंफेक्शन कम करता है

    खतना करवाने के बाद ब्लैडर के इंफेक्शन से बच सकते हैं। यह यूरिन मार्ग में होने वाले इंफेक्शन को रोक कर किडनी के इंफेक्शन से भी बचाता है। जो पुरुष खतना नहीं करवाते उनके ब्लैडर में इंफेक्शन होने का खतरा ज्यादा रहता है।

    पेनिस से जुड़ी परेशानियों से राहत

    खतना न करवाने पर कभी-कभी लिंग की ऊपरी त्वचा कठोर हो जाती है। इससे लिंग में दबाव पड़ता है और सूजन हो सकती है। सूजन इंफेक्शन को बढ़ावा दे सकता है। यह बैलेनाइटिस , फाइमोसिस, पोस्थाइटिस,पैराफाइमोसिस, बैलेनोपोस्थाइटि,  लिंग की चमड़ी पर मस्सेदार घाव बनना लिंग की चमड़ी पर कैंसर से संबंधित घाव बनना आदि लिंग से जुड़ी बीमारियों का खात्मा कर देता है।

    यौन संचारित रोगों से बचाव

    खतना करवाने के बाद यौन संचारित रोगों के होने का खतरा कम हो जाता है। यौन संचारित रोगों के होने पर व्यक्ति की रोग प्रतिरोधक क्षमता खत्म होने लगती है और वह जानलेवा बीमारियों का शिकार हो सकता है, लेकिन खतना करवा लेने के बाद आप HIV जैसे खतरनाक वायरस से शरीर का बचाव कर सकते हैं। लेकिन फिर भी यौन संबंध बनाते वक्त सावधानी रखने की जरूरत है। असुरक्षित यौन संबंध बनाने पर खतना भी कभी-कभी आपकी इम्युनिटी को नहीं बचा पाता है।

    इसलिए जब भी आप किसी अजनबी महिला के साह यौन संबंध बनाएं कंडोम का उपयोग जरूर करें।

    कैंसर से सुरक्षा

    जिन पुरुषों का खतना हो चुका होता है उनमें दूसरे पुरुषों के मुकाबले पेनिस कैंसर होने का खतरा कम होता है। खतना महिलाओं को भी कैंसर से बचाता है। पुरुषों के खतना करवाने पर महिलाओं में सर्वाइकल कैंसर (Cervical Cancer) का खतरा कम हो जाता है।

    सर्जरी के बाद प्रिस्टीन केयर द्वारा दी जाने वाली निःशुल्क सेवाएँ

    भोजन और जीवनशैली से जुड़े सुझाव

    सर्जरी के बाद मुफ्त चैकअप

    मुफ्त कैब सुविधा

    24*7 सहायता

    खतना के नुकसान - Side Effects of Circumcision in Hindi

    शरीर के किसी भी अंग को काटा जाए तो इससे कुछ न कुछ नुकसान जरूर होगा। सर्जरी की तरह कुछ नुकसान खतना में भी देखने को मिलते हैं।

    • जहां खतना हुआ है वहां जलन हो सकती है|
    • कुछ दिनों के लिए पेनिस सूजकर बढ़ जाता है।
    • खतना कराते समय पेनिस की मसल्स कड़ी हुई तो चोट लग सकती है।
    • महिलाएं खतना कराती हैं तो उनके पेशाब के रास्ते में इंफेक्शन का खतरा रहता है।
    • योनि और पेनिस में दर्द और खुजली होती है।
    • खतना के बाद खून बहना स्वाभाविक है। लेकिन कभी-कभी खून लगातार बहता रहता है जिससे शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी हो सकती है।

    यदि खतना मॉडर्न एवं एडवांस तकनीक की मदद से किया जाए तो इसके फायदे बहुत होंगे और  शायद ही कोई नुकसान होगा।

    खतना के बाद लिंग की देखभाल कैसे करें? Khatna ke Baad Dekhbhal

    खतना कराने के उपरान्त पुरुष को निम्न बातों का ध्यान रखना चाहिए:

    • एडवांस लेजर खतना करवाने के बाद अगले दिन ही आप नहा सकते हैं, हालांकि डॉक्टर लिंग में पट्टी बांधते हैं, आपको कोशिश करना चाहिए कि पट्टी न भीगे। इसके लिए आप किसी पन्नी से लिंग को ढक सकते हैं।
    • लिंग की पूरी रिकवरी तक सेक्स या हस्तमैथुन न करें, इस मसले पर एक बार डॉक्टर की सलाह लें।
    • गुप्तांग के आस-पास की जगह साफ रखें।
    •  लगभग तीन दिन बाद आप लिंग से पट्टी उतार सकते हैं, एक बार पट्टी उतारने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।
    • पट्टी उतारने के बाद डॉक्टर द्वारा बताए गए तरीके से लिंग की सफाई करें और क्रीम लगाना न भूलें।

    प्रिस्टीन केयर से कराएं मॉडर्न एवं एडवांस खतना सर्जरी

    खतना के बहुत से फायदे होते हैं, लेकिन पुरानी तकनीक और ओपन सर्जरी से खतना करवाने पर प्रक्रिया के उपरान्त लिंग से जुड़े कुछ नुकसान भी हो सकते हैं।

    इन नुकसान को ख़तम करने और मरीजों को दर्द रहित एवं एडवांस खतना प्रदान करने के लिए Pristyn Care भारत के 30 से ज़्यादा शहरों में उपलब्ध है। हम लेजर और स्टेपलर तकनीक से खतना करते हैं। अगर आपके मन में खतना से जुड़ा कोई सवाल है तो हमें कॉल कर सकते हैं या फिर अपॉइंटमेंट बुक कर सकते हैं, वो भी बिल्कुल मुफ्त।

    प्रिस्टीन केयर से खतना करवाने पर पुरुष को निम्न सुविधाएं दी जाती हैं:

    • जांच में मिलेगी 30 प्रतिशत की भारी छूट
    • आरामदायक कमरे में होगा इलाज
    • एडवांस लेजर उपकरण से करेंगे इलाज
    • अनुभवी सर्जन करेंगे इलाज (10 से अधिक वर्ष के अनुभव के साथ)
    • फ्री फॉलो-अप लिया जाएगा
    • गुप्त परामर्श होगा

    खतना से संभावित पूछे जाने वाले सवाल

    क्या खतना सर्जरी बीमा में कवर होती है?

    अगर आपको अपनी चमड़ी के साथ कोई चिकित्सा समस्या है, तो बीमा, खतना सर्जरी की लागत को कवर कर सकता है। परामर्श के लिए आज ही कॉल करें। हमारी विशेषज्ञों की टीम यह तय करने में आपकी मदद करेगी कि क्या आपके पास ऐसी चिकित्सा स्थिति है जो बीमा-कवर खतना सर्जरी के लिए सही हो सकती है।

    क्या खतना के कोई दुष्प्रभाव हैं?

    लेजर खतना पारंपरिक खतना से जुड़े संक्रमण, रक्तस्राव, या अन्य सामान्य दुष्प्रभावों का कोई जोखिम नहीं होता है।

    क्या लेजर या स्टेपलर खतना उपचार महंगा होता है?

    प्रिस्टीन केयर में हम सस्ती कीमत पर सबसे अच्छा लेजर उपचार प्रदान करते हैं। हम कैशलेस क्लेम विकल्प (0% ब्याज EMI) भी प्रदान करते हैं जिससे ये उपचार ज़्यादा किफायती हो जाता है।

    खतना के बाद ठीक होने में कितना समय लगेगा?

    खतना सिर्फ कुछ घंटों की प्रक्रिया है। आप प्रक्रिया के कुछ घंटों बाद उसी दिन घर जा सकते हैं। आप 24 घंटे में सामान्य कामकाज की अपनी दिनचर्या पर लौट सकते हैं।

    खतना प्रक्रिया के बाद संभोग कब कर सकते हैं?

    प्रक्रिया के बाद संभोग करने के लिए कम से कम तीन हफ्ते तक प्रतीक्षा करने की सलाह दी जाती है।

    खतना क्यों किया जाता है और खतना के कारण! - Why Khatna is Done?

    यहूदी और मुस्लिम समुदाय में इसे धार्मिक कार्य माना जाता है और परिवार के हर पुरुष को खतना करवाना ही पड़ता है। वहीं कुछ समुदाय के लोग इसे स्वास्थ्य कारणों से अच्छा मानते हैं। ऑस्ट्रेलिया और अफ्रीका जैसे देशों में यह पुरुष की स्वच्छता और स्वास्थ्य से जुड़ा है। कुछ लोग अपनी सहजता और चिकित्सीय कारणों से खतना करवाते हैं। उनका मानना है कि लिंग की स्किन कठोर होने पर इसे आगे पीछे करने में परेशानी होती है। इसलिए त्वचा को काट दिया जाता है।

    इन सबके अलावा लिंग से जुड़ी निम्न बीमारियों के होने पर भी खतना करवाया जाता है:

    • बैलेनाइटिस (लिंग में सूजन)
    • फाइमोसिस (इस स्थिति में लिंग के बाहरी हिस्से की चमड़ी ऊपर-नीचे नहीं हो पाती है)
    • पोस्थाइटिस (लिंग के सिर की चमड़ी में सूजन होना)
    • पैराफाइमोसिस (इस बीमारी में लिंग की ऊपरी हिस्से की चमड़ी पीछे चली जाती है, लेकिन आगे नहीं आ पाती है।
    • बैलेनोपोस्थाइटिस (लिंग के अगले हिस्से और उसकी ऊपरी चमड़ी में सूजन आ जाना) लिंग की चमड़ी पर मस्सेदार घाव बनना लिंग की चमड़ी पर कैंसर से संबंधित घाव बनना।
    • धार्मिक मसला। 
    green tick with shield icon
    Content Reviewed By
    doctor image
    Dr. Sanjeev Gupta
    25 Years Experience Overall
    Last Updated : June 7, 2024

    हमारे मरीजों की प्रतिक्रिया

    Based on 317 Recommendations | Rated 5 Out of 5
    • AP

      Abhraham Philip

      5/5

      Dr Nobby was exceptionally helpful and is available on any doubts.

      City : THIRUVANANTHAPURAM
      Doctor : Dr. Nobby Manirajan
    • AC

      Anandakumar Ch

      5/5

      Friendly and treatment is very excelent

      City : VIJAYAWADA
      Doctor : Dr. K Lakshmi Chandra Sekhar
    • S

      Sandeep

      5/5

      Surgery was done on 9th jan . Doc was friendly all the way through

      City : BHUBANESWAR
      Doctor : Dr. Ravi Sharma
    • MA

      Manoj

      4/5

      Dr haridarshan SJ sir speaks in their mother tongue, diagnosed the issue quickly and provided the proper details and procedure what needs to be done

      City : BANGALORE
      Doctor : Dr. SJ Haridarshan
    • RA

      Raj

      5/5

      Aditya the person who talked to me, on a phone call and said the exact solution for my problem, the person voice is so wonderful and talking style like giving respect to the customer is awesome, and the doctor he appointed is well experienced and knowledgeable and specialist thank you to DR Mohan ram, and thanks to Aditya.

      City : BANGALORE
      Doctor : Dr. Mohan Ram
    • RS

      Rama Shankar

      5/5

      NA

      City : DELHI