location
Get my Location
search icon
phone icon in white color

कॉल करें

निःशुल्क परामर्श बुक करें

पायलोनिडल साइनस — कारण, लक्षण, जोखिम और इलाज

पिलोनिडल साइनस का तुरंत ही इलाज करवाना ज़रूरी होता है क्योंकि यह एक दर्दनाक एनोरेक्टल स्थिति है जिसमें सर्जरी करवाने की ज़रूरत पड़ती है। Pristyn Care आपको देता है योग्य सर्जन, चिकित्सा देखभाल कोऑर्डिनेटर, कागजी कार्रवाई और बीमा प्राप्ति में सहायता और सर्जरी के बाद देखभाल ताकि बिना कोई परेशानी के आपकी सर्जरी पूरी हो पाएं।

पिलोनिडल साइनस का तुरंत ही इलाज करवाना ज़रूरी होता है क्योंकि यह एक दर्दनाक एनोरेक्टल स्थिति है जिसमें सर्जरी करवाने की ज़रूरत पड़ती ... और पढ़ें

anup_soni_banner
डॉक्टर से फ्री सलाह लें
Anup Soni - the voice of Pristyn Care pointing to download pristyncare mobile app
i
i
i
i
Call Us
स्टार रेटिंग
2 M+ संतुष्ट मरीज
700+ हॉस्पिटल
40+ शहर

आपके द्वारा दी गई जानकारी सुनिश्चित करने के लिए कृप्या ओटीपी डालें *

i

40+

शहर

Free Consultation

निशुल्क परामर्श

Free Cab Facility

मुफ्त कैब सुविधा

No-Cost EMI

नो-कॉस्ट ईएमआई

Support in Insurance Claim

बीमा क्लेम में सहायता

1-day Hospitalization

सिर्फ एक दिन की प्रक्रिया

USFDA-Approved Procedure

यूएसएफडीए द्वारा प्रमाणित

पायलोनिडल साइनस उपचार के लिए सर्वश्रेष्ठ चिकित्सक

Choose Your City

It help us to find the best doctors near you.

अहमदाबाद

बैंगलोर

भुवनेश्वर

चंडीगढ़

चेन्नई

कोयंबटूर

देहरादून

दिल्ली

हैदराबाद

इंदौर

जयपुर

कोच्चि

कोलकाता

कोझिकोड

लखनऊ

मदुरै

मुंबई

नागपुर

पटना

पुणे

राँची

तिरुवनंतपुरम

विजयवाड़ा

विशाखापट्टनम

दिल्ली

गुडगाँव

नोएडा

अहमदाबाद

बैंगलोर

  • online dot green
    Dr. Sunil Raghunath Rai (sHGbHWYnFM)

    Dr. Sunil Raghunath Rai

    MBBS, DNB-General Surgery
    38 Yrs.Exp.

    4.8/5

    38 + Years

    Mumbai

    General Surgeon

    Advance Laparoscopic Surgeon

    Advance Laser Proctologist

    Call Us
    6366-448-340
  • online dot green
    Dr. Ramnik Grover (miERsHPNKE)

    Dr. Ramnik Grover

    MBBS, MS-General Surgery
    29 Yrs.Exp.

    4.8/5

    29 + Years

    Delhi

    General Surgeon

    Advance Laparoscopic Surgeon

    Advance Laser Proctologist

    Call Us
    6366-448-340
  • online dot green
    Dr. Vikas Gupta (yYLkP4TKLY)

    Dr. Vikas Gupta

    MBBS, MS-General Surgery
    29 Yrs.Exp.

    4.8/5

    29 + Years

    Delhi

    General Surgeon

    Advance Laparoscopic Surgeon

    Advance Laser Proctologist

    Call Us
    6366-448-340
  • online dot green
    Dr. Ramji Khetri (yMLpkPbEEa)

    Dr. Ramji Khetri

    MBBS, MS-General Surgery
    28 Yrs.Exp.

    4.8/5

    28 + Years

    Bhubaneswar

    General Surgeon

    Advance Laparoscopic Surgeon

    Advance Laser Proctologist

    Call Us
    6366-448-340
  • पायलोनिडल साइनस क्या होता है?

    पायलोनिडल साइनस स्किन में छोटा सा एक छेद बन जाता है जो पस से भरा हुआ होता है। कभी-कभी इसमें थोड़ी मात्रा में खून भी हो सकता है। यह आमतौर पर कूल्हे के ऊपर या पीठ के निचले हिस्से में होता है। पायलोनिडल साइनस सिस्ट का रूप है जिसमें पस और खून के अलावा बाल और गंदगी भी भर जाते हैं। जिसके कारण मरीज को काफी तेज दर्द होता है। पायलोनिडल साइनस से खून एवं मवाद स्राव के साथ साथ बदबू भी आती है।

    • बीमारी का नाम

    पायलोनिडल साइनस

    • सर्जरी का नाम

    लेजर ऑपरेशन

    • अवधि

    15 से 20 मिनट

    • सर्जन

    जनरल सर्जन

    पायलोनिडल सिस्ट सर्जरी की कीमत जांचे

    वास्तविक कीमत जाननें के लिए जानकारी भरें

    i
    i
    i

    आपके द्वारा दी गई जानकारी सुनिश्चित करने के लिए कृप्या ओटीपी डालें *

    i

    लेजर पिलोनाइडल साइनस उपचार के दौरान क्या होता है?

    पायलोनिडल साइनस का निदान

    पायलोनिडल साइनस का निदाऩ एक पूर्ण शारीरिक परीक्षण के साथ शुरू होता है, डॉक्टर एक या अधिक पिलोनाइडल सिस्ट के लक्षणों का पता लगाने के लिए आपके नितंबों की क्रीज की जांच करता है। इन रेड लम्पस को आंखों से आसानी से देखा जा सकता है क्योंकि ये बहार ही दिखाई देते हैं। आपके नितंबों के बीच एक या एक से अधिक छोटी गांठ होना, पिलोनाइडल फोड़ा बनने की शुरुआत हो सकती है। ऐसी गांठें मिलने पर, डॉक्टर आपसे ये सवाल पूछ सकता है जैसे:

    • क्या ये लक्षण कुछ ही दिनों में तेजी से बढ़े हैं?
    • क्या आपको बैठते समय दर्द महसूस होता है?
    • क्या आपने सिस्ट के रंग में कोई परिवर्तन देखा है?
    • क्या आपने सूजन से ब्लीडिंग होते देखी है?
    • क्या आपको कोई अन्य लक्षण या शिकायत है?
    • क्या गांठ में से कोई तरल पदार्थ या पस निकलता है?

    बहुत कम मामलों में, आपको सीटी स्कैन या एमआरआई(MRI) कराने की सलाह दी जा सकती है।

    पायलोनिडल साइनस का उपचार

    पायलोनिडल साइनस को ठीक करने के लिए सर्जरी की ज़रूरत होती है क्योंकि वे ज्यादातर मामलों में अपने आप ठीक नहीं होते हैं। प्रक्रिया के दौरान, प्रोक्टोलॉजिस्ट पूरे साइनस ट्रैक्ट को अलग करने के लिए एक उच्च-तीव्रता वाली लेजर का इस्तेमाल करते है। लेजर पायलोनिडल साइनस सर्जरी सटीकता प्रदान करती है साथ ही साथ इस सर्जरी से ये समस्या फिर नहीं होती और मरीज जल्द ही ठीक हो जाते हैं।

    क्या आप इनमें से किसी लक्षण से गुज़र रहे हैं?

    लेजर पायलोनिडल साइनस सर्जरी के लिए खुद को कैसे करें तैयार?

    इस सर्जरी के लिए किसी विशेष तैयारी की ज़रूरत नहीं होती है, लेकिन इन बातों का ध्यान रखें:

    • जटिलताओं के जोखिम को कम करने के लिए डॉक्टर द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें।
    • अगर आपको एनेस्थीसिया या किसी अन्य दवा से एलर्जी है, तो सर्जन को पहले ही बता दें।
    • सर्जरी से कुछ दिन पहले धूम्रपान करने और शराब पीने से बचें।
    • सर्जरी से 8 घंटे पहले खाना ना खाएं।

    लेजर पायलोनिडल साइनस सर्जरी के बाद ठीक होने की प्रक्रिया क्या है?

    आपकी सर्जरी के बाद आपको दिशा-निर्देश दिए जाएंगे। लेकिन आप इन दिशा-निर्देशों का पालन ज़रूर करें:

    • अपने डॉक्टर के पास फॉलो-अप परामर्श के लिए ज़रूर जाएं ताकि पता चल सके की आप ठीक हो रहे हैं।
    • अपने घाव की ड्रेसिंग करें और उसे स्वच्छ रखें।
    • डॉक्टर के द्वारा दी गई दवाइयां समय-समय पर खाएं और पूरा डोज खत्म करें।
    • भारी वजन उठाने से बचें क्योंकि इससे सर्जरी वाली जगह पर अतिरिक्त दबाव पड़ता है।
    • बैठने के लिए डोनट कुशन का इस्तेमाल करें।
    • लंबे समय तक कठोर सतहों पर ना बैठें।

    अगर आपको नीचे दी गई चीज़ों में से कुछ भी होता है तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें:

    • बुखार।
    • पस निकलना।
    • दर्द या सूजन बढ़ती है या उस जगह पर गर्मी महसूस हो रही है।

    सर्जरी के बाद प्रिस्टीन केयर द्वारा दी जाने वाली निःशुल्क सेवाएँ

    भोजन और जीवनशैली से जुड़े सुझाव

    सर्जरी के बाद मुफ्त चैकअप

    मुफ्त कैब सुविधा

    24*7 सहायता

    लेजर पायलोनिडल साइनस सर्जरी के फायदे जानें

    लेजर पायलोनिडल साइनस सर्जरी के फायदे:

    • न्यूनतम रक्तस्राव और दर्द: लेजर सर्जरी के दौरान कम से कम खून निकलता है और सर्जरी के बाद दर्द कम होता है क्योंकि लेजर केवल उसी जगह पर असर करती है जहां मरीज को दिक्कत हो रही है। इस वजह से मरीज जल्द ठीक होते हैं।
    • बेहतर सटीकता: लेजर सर्जरी आसपास के टिशू को नुकसान पहुंचाए बिना सिर्फ जिस जगह पर परेशानी है वहीं इलाज करके सटीकता प्रदान करती है।
    • कुछ मिनटों की सर्जरी: लेजर सर्जरी एक डे केयर सर्जरी है, यानी, आपको उसी दिन अस्पताल से छुट्टी दे दी जाएगी।
    • जल्द रिकवरी होती है: चूंकि यह एक कम चीरा लगाने वाली प्रक्रिया है, इसलिए रिकवरी जल्द हो जाती है।
    • न्यूनतम निशान: लेजर प्रक्रिया में सर्जरी की जगह पर कम से कम निशान पड़ते हैं, उसमे से भी ज़्यादातर निशान ठीक होने के साथ ही फीके पड़ जाते हैं।

    लेजर पायलोनिडल साइनस सर्जरी के जोखिम क्या है?

    आमतौर पर, पिलोनाइडल साइनस की लेजर सर्जरी के बाद मरीज को किसी तरह का कोई जोखिम नहीं होता है। क्योंकि इलाज का यह तरीका बहुत ही आधुनिक और सुरक्षित है। इलाज के दूसरे तरीकों की तुलना में यह एक बेहद ही सफल और सुरक्षित प्रक्रिया है जो की लगभग 30 मिनट में पूरी हो जाती है। सर्जरी के बाद मरीज उसी दिन अपने घर जाने के लिए तैयार भी हो जाते हैं। लेकिन दूसरी सर्जरी की तरह इस सर्जरी के भी कुछ सामान्य और संभावित जोखिम हो सकते हैं जो मरीज सर्जरी के बाद खुद में महसूस कर सकते हैं जैसे:

    सर्जरी वाली जगह से खून निकलना, वहां पर संक्रमण होना या फिर घाव बन जाना आदि शामिल हैं। अगर आपको सर्जरी के बाद ऊपर बताई गई या दूसरी कोई भी समस्या हो तो तुरंत अपने डॉक्टर से मिलकर उन्हें इस बारे में बताना चाहिए ताकि वे समय पर ही इनकी रोकथाम कर सकें।

    पायलोनिडल साइनस के लिए वैकल्पिक उपचार जानें

    पायलोनिडल साइनस के लिए वैकल्पिक उपचार:

    • घरेलू उपचार: पायलोनिडल साइनस के लक्षणों से राहत पाने के लिए आप नीचे दिए गए तरीके अपना सकते हैं जैसे:
      • गर्म सेक करना: ​​साइनस पर दिन में 4 से 5 बार गर्म सेक करने से पायलोनिडल साइनस से डिस्चार्ज को निकालने में मदद मिल सकती है। गर्म सेक करने से दर्द और खुजली को दूर करने में भी मदद कर सकती है।
      • सिट्ज़ बाथ: एक टब में कूल्हों तक हल्का गर्म पानी भरकर बैठने से बेचैनी और दर्द से राहत मिलती है। इस विधि को हिप बाथ के नाम से भी जाना जाता है।
    • गैर-सर्जिकल: अगर सूजन या संक्रमण के कोई लक्षण नहीं हैं, तो डॉक्टर लक्षणों को मैनेज करने के लिए एंटीबायोटिक्स लेने की सलाह दे सकते हैं। आपको अच्छे से स्वच्छता बनाए रखने और उस जगह को बालों से मुक्त रखने के लिए कहा जाएगा।
    • सर्जिकल: पायलोनिडल साइनस के इलाज के लिए वैकल्पिक सर्जिकल तरीके इस प्रकार हैं:
    • लांसिंग: यह उपचार लोकल एनेस्थीसिया के प्रभाव में किया जाता है और दर्दनाक फोड़े के लक्षणों को कम करता है। डॉक्टर तब फोड़े को खोलने के लिए एक स्काल्पेल का उपयोग करते हैं और गंदगी, रक्त, बाल और पस को साफ करता हैं। एक बार सफाई हो जाने के बाद, डॉक्टर घाव को अंदर से ठीक करने के लिए एक जीवाणु रहित ड्रेसिंग के साथ कवर कर देते हैं।
    • चीरा और निकासी: लोकल एनेस्थीसिया के तहत चीरा और निकासी एक खुली सर्जरी है। सर्जन डिस्चार्ज को निकालने के लिए साइनस में एक चीरा लगाता है, जिसे बाद गौज के साथ पैक किया जाता है और ठीक होने के लिए खुला छोड़ दिया जाता है। गौज यानी एक ढीला बुना हुआ सूती सर्जिकल ड्रेसिंग। गौज को नियमित रूप से बदला जाता है, और साइनस को ठीक होने में लगभग 4-6 सप्ताह लगते हैं।
    • पायलोनिडल साइनसटॉमी: एक पायलोनिडल साइनसटॉमी पूरे पायलोनिडल साइनस का सर्जिकल निष्कासन है। यह प्रक्रिया आम तौर पर स्थानीय या स्पाइनल एनेस्थीसिया के तहत आवर्ती पायलोनिडल साइनस के लिए की जाती है।

    क्या होता है अगर पाइलोनाइडल साइनस का इलाज नहीं किया जाता है?

    अगर आप अपने पाइलोनाइडल साइनस को अनुपचारित छोड़ते हैं, तो एक्यूट पाइलोनाइडल साइनस यानी पायलोनिडल साइनस एक क्रोनिक स्थिति बनने की संभावना बढ़ जाती है। इसका मतलब है कि बार-बार आप पिलोनाइडल सिस्ट से पीड़ित होते रहेंगे और यहां तक ​​कि नए पिलोनाइडल सिस्ट भी होने लगते हैं। जैसे-जैसे समय बीतता है, आपके जीवन के लिए सिस्टमिक संक्रमण विकसित होने का खतरा बढ़ जाता है।

    केस अध्ययन

    नमन नई दिल्ली के एक 33 वर्षीय व्यक्ति थे, जिन्हें लगभग एक साल पहले पायलोनिडल साइनस का निदान मिला था। उनके डॉक्टरों ने उन्हें बताया कि लंबे समय तक राहत पाने के लिए साइनस को सर्जिकल प्रक्रिया से हटाने की जरूरत है। लेकिन नमन को लगता था कि सर्जरी एक डराने वाली प्रक्रिया है और वह इसके लिए जाने से डरता था।

    प्रक्रिया के साथ और अधिक सहज महसूस करने के लिए, उन्होंने ऑनलाइन सर्च किया और वहां से उन्हें Pristyn Care का पता चला, Pristyn Care ने उन्हें लेजर पायलोनिडल साइनस सर्जरी के बारे में बताया। नमन जानता था कि लेजर सर्जरी से कम से कम दर्द और खून निकलता है। इसलिए, उन्होंने Pristyn Care से संपर्क किया और अपने चिकित्सा देखभाल कोऑर्डिनेटर डॉ. शुभम से बात की। लंबी चर्चा के बाद, डॉ. शुभम ने द्वारका में Pristyn Care क्लिनिक जाने और अपने इन-हाउस प्रोक्टोलॉजिस्ट, डॉ. निखिल से परामर्श करने का सुझाव दिया। नमन ने उसी दिन भर्ती होने का फैसला लिया।

    जब नमन अस्पताल पहुंचे, तो Pristyn Care टीम द्वारा सभी कागजी कार्रवाई पूरी की गई और बीमा प्राप्ति का ध्यान रखा गया और नमन को राहत मिली कि उन्हें इधर-उधर भागना नहीं पड़ा। उनकी लेजर पायलोनिडल साइनस सर्जरी सुचारू रूप से हुई और उन्हें 24 घंटे के भीतर छुट्टी भी दे दी गई।

    नमन 2 से 3 दिनों के अंदर ही ठीक हो गया और उन्होंने काम पर जाना शुरू कर दिया। एक महीने के भीतर, वह सर्जरी से पूरी तरह से ठीक हो गया। नमन Pristyn Care के साथ अपने अनुभव से प्रसन्न थे और उन्होंने डॉ. शुभम और डॉ. निखिल का आभार व्यक्त किया।

    भारत में पिलोनाइडल साइनस उपचार की कीमत क्या है?

    उपलब्ध जानकारी के अनुसार, पायलोनिडल साइनस सर्जरी की अनुमानित खर्च 40,000/- रुपये से लेकर 50,000/- रुपये के बीच होती है। लेकिन, वास्तविक पायलोनिडल साइनस सर्जरी का खर्च कुछ कारकों के आधार पर भिन्न हो सकती है जैसे कि आप जिस शहर में इलाज करवा रहे हैं, आदि। इसलिए, यह सलाह दी जाती है कि सर्जरी की कुल खर्च के बारे में पहले ही अस्पताल के साथ चर्चा कर लें। कुछ कारक जो आपकी पायलोनिडल साइनस सर्जरी की खर्च में बदलाव का कारण बन सकते हैं उनमें शामिल हैं:

    • अस्पताल का विकल्प (सरकारी/निजी)
    • प्रोक्टोलॉजिस्ट की फीस
    • प्रीऑपरेटिव डायग्नोस्टिक टेस्ट की कुल लागत
    • प्रीऑपरेटिव और पोस्टऑपरेटिव दवाओं की लागत
    • नर्सिंग शुल्क
    • अस्पताल में भर्ती शुल्क (यदि आवश्यक हो)
    • यातायात भुगतान

    पाइलोनाइडल साइनस उपचार के लिए सर्वश्रेष्ठ क्लिनिक

    Pristyn Care में, हम पाइलोनाइडल साइनस का सुरक्षित और प्रभावी ढंग से इलाज करने के लिए लेजर सर्जरी जैसे विशेष उपचार प्रदान करते हैं। Pristyn Care प्रोक्टोलॉजिस्ट(proctologists) के पास पिलोनाइडल साइनस जैसी बीमारियों के इलाज का और लेजर सर्जरी करने का 8 से 10 वर्षों का अनुभव है इसलिए हमारे प्रोक्टोलॉजिस्ट(proctologists) की सर्जरी की सफलता दर काफी ज़्यादा है इसलिए हमारे मरीज हम पर पूरा भरोसा करते हैं।

    ज़्यादातर पूछे जाने वाले सवाल

    क्या पिलोनाइडल साइनस अपने आप दूर हो सकता है?

    कभी-कभी पिलोनाइडल साइनस अपने आप दूर हो जाता है, लेकिन इसके दोबारा आने का खतरा रहता ही है।

    पिलोनाइडल साइनस के लिए मुझे डॉक्टर के पास कब जाना चाहिए?

    अगर बैठने के दौरान आपका दर्द बढ़ जाता है और टेलबोन पर या नितंबों के बीच एक छोटे से डिंपल या बड़े सूजे हुए साइनस जैसी गांठ दिखाई देती है, तो आपको तुरंत ही डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। साइनस से दुर्गंध के साथ तरल पदार्थ भी निकल सकता है।

    पिलोनाइडल साइनस लेजर सर्जरी के बाद कैसे सोना चाहिए?

    सर्जरी के बाद सोने का सबसे अच्छा तरीका सामने या करवट लेकर सोना है, क्योंकि इससे आपके सर्जरी के घाव पर दबाव कम होता है। हालांकि, करवट लेकर सोते समय पेट के बल न सोएं, क्योंकि इससे आपकी पीठ के निचले हिस्से में खिंचाव होगा।

    पिलोनाइडल साइनस के उपचार के लिए सबसे अच्छी सर्जरी कौनसी है?

    पिलोनाइडल साइनस के उपचार के लिए लेजर सर्जरी सबसे अच्छी सर्जरी है। लेजर सर्जरी द्वारा पायलोनिडल साइनस का इलाज करने पर आपको जरा भी दर्द, ब्लीडिंग या दूसरी परेशानीयों का सामना नहीं करना पड़ता है। सर्जरी वाले दिन ही आपको हॉस्पिटल से डिस्चार्ज कर दिया जाता है। सर्जरी के बाद जख्म या दाग बनने तथा इंफेक्शन होने का खतरा लगभग न के बराबर होता है और रिकवरी में आपको काफी कम समय लगता है। आमतौर पर, सर्जरी के 2-3 दिन के बाद आप अपने दैनिक जीवन के कामों को फिर से करने के लिए पूरी तरह से फिट हो जाते हैं।

    पिलोनाइडल साइनस किन-किन वजहों से हो सकता है?

    पिलोनाइडल साइनस के कारणों में फोड़ा होना, जख्म होना, बाल तोड़ की समस्या होना, कोई अनुवांशिक कारण होना, शरीर में हार्मोनल परिवर्तन होना, टाइट कपड़े पहनना और खासकर टाइट अंडरवियर पहनना, लंबे समय तक एक ही जगह बैठे रहना, पूरे शरीर में प्रणाली गत संक्रमण की शिकायत होना, सिस्ट के भीतर त्वचा के कैंसर की दुर्लभ संभावना होना, त्वचा को रगड़ने से हेयर फॉल एरिया का बंद हो जाना तथा बाल टूटना और टूटे हुए बाल का स्किन के अंदर चले जाना आदि शामिल हैं। अगर आपको पहले से ही इनमें से कोई भी समस्या है तो उसका समय पर सही उपचार करके पिलोनाइडल साइनस की समस्या को पैदा होने से रोक सकते हैं।

    पिलोनिडल साइनस का घरेलू इलाज

    हमारे देश में घरेलू इलाज या घरेलू नुस्खों का एक अपना अलग इतिहास है। हर तरह की बीमारियों के लिए कुछ न कुछ घरेलू नुस्खे उपलब्ध होते ही हैं। कुछ मामलों में यह काफी हद तक फायदेमंद होते हैं और इनके इस्तेमाल से बीमारी भी खत्म हो जाती है लेकिन कुछ मामलों में यह उतनी प्रभावशाली नहीं होती है। पिलोनिडल साइनस को ठीक करने के लिए भी कुछ घरेलू उपाय मौजूद हैं जिनकी मदद से आप इस अपनी समस्या को दूर कर सकते हैं।

    • हल्दी पिलोनिडल साइनस की समस्या दूर करता है
    • लहसुन पिलोनिडल साइनस को ठीक करता है
    • सेंधा नमक पिलोनिडल साइनस का बढ़िया इलाज है
    • टी ट्री ऑयल की मदद से पिलोनिडल साइनस खत्म हो सकती है
    • कैस्टर ऑयल से पिलोनिडल साइनस ठीक होता है

     

    green tick with shield icon
    Content Reviewed By
    doctor image
    Dr. Sunil Raghunath Rai
    38 Years Experience Overall
    Last Updated : May 17, 2024

    हमारे मरीजों की प्रतिक्रिया

    Based on 465 Recommendations | Rated 5 Out of 5
    • AD

      Anurag Daniel

      5/5

      My Son had Pilondial sinus and was in a bad stage. We wanted Laser surgery as this was a told to be a painless affair. We were asked to meet Dr.Abdul Mohammed. We are very happy that , such a kind hearted and Experienced Doctor, who has lots of patience,care and experience in available in Hyderabad. Operation using Laser is highly recommended, and after constant post operative care and frequent reviews, we are now happy. Words can't express our heartfelt gratitude to such an excellent Doctor.

      City : HYDERABAD
      Doctor : Dr. Abdul Mohammed
    • DD

      DIXIT DUDHAT

      4/5

      I had pilonidal sinus which was treated by them. The doctor was fine. I got relief.

      City : AHMEDABAD
      Doctor : Dr. Majethiya Jalpesh
    • GH

      Gunanidhi hegde

      3/5

      I had complications during recovery and getting in touch with the doctor was also difficult. Not very happy with post-op care.

      City : MYSORE
    • KD

      Kaviya devi

      5/5

      NA

      City : MADURAI
      Doctor : Dr. Z Bharat Prasad
    • HA

      Hariprasaad

      4/5

      Her effortlessness in treatment is amazing.

      City : COIMBATORE
      Doctor : Dr. Sathya Deepa
    • AK

      Arjun Kumar Singh

      5/5

      Good doctor & nice behaviour

      City : DELHI
      Doctor : Dr. Amit Kumar Kushwaha