location
Get my Location
search icon
phone icon in white color

कॉल करें

निःशुल्क परामर्श बुक करें

लिपोमा डायग्नोस्टिक सर्जरी, प्रक्रिया और रिकवरी

वजन बढ़ना या मोटापा होना हाई कोलेस्ट्रॉल या डायबिटीज जैसी गंभीर समस्याओं को निमंत्रण देता है। लिपोमा भी उन्हीं में से एक है। ज्यादातर मामलों में यह समस्या 40-60 वर्ष के लोगों को प्रभावित करती है। लेकिन यह समस्या किसी भी उम्र के लोगों को प्रभावित कर सकती है। इससे बचने के लिए सही समय पर सही इलाज की आवश्यकता होती है। प्रिस्टीन केयर से संपर्क करें और किफ़ायती दरों पर दर्द रहित लिपोमा हटाने का सफल और सुरक्षित सर्जिकल ट्रीटमेंट करवाएं।

वजन बढ़ना या मोटापा होना हाई कोलेस्ट्रॉल या डायबिटीज जैसी गंभीर समस्याओं को निमंत्रण देता है। लिपोमा भी उन्हीं में से एक है। ... और पढ़ें

anup_soni_banner
डॉक्टर से फ्री सलाह लें
Anup Soni - the voice of Pristyn Care pointing to download pristyncare mobile app
i
i
i
i
स्टार रेटिंग
2 M+ संतुष्ट मरीज
700+ हॉस्पिटल
40+ शहर

आपके द्वारा दी गई जानकारी सुनिश्चित करने के लिए कृप्या ओटीपी डालें *

i

40+

शहर

Free Consultation

निशुल्क परामर्श

Free Cab Facility

मुफ्त कैब सुविधा

No-Cost EMI

नो-कॉस्ट ईएमआई

Support in Insurance Claim

बीमा क्लेम में सहायता

1-day Hospitalization

सिर्फ एक दिन की प्रक्रिया

USFDA-Approved Procedure

यूएसएफडीए द्वारा प्रमाणित

लिपोमा सर्जरी के प्लास्टिक सर्जन

Choose Your City

It help us to find the best doctors near you.

अहमदाबाद

बैंगलोर

चेन्नई

कोयंबटूर

दिल्ली

हैदराबाद

कोलकाता

मुंबई

पुणे

दिल्ली

गुडगाँव

नोएडा

अहमदाबाद

बैंगलोर

  • online dot green
    Dr. Rohit Devdutt Bavdekar (LkcatVgAb8)

    Dr. Rohit Devdutt Bavdek...

    MBBS, MD, DNB-Plastic Surgery
    30 Yrs.Exp.

    4.7/5

    30 + Years

    Bangalore

    Aesthetics and Plastic Surgeon

    Call Us
    6366-528-521
  • online dot green
    Dr. Devidutta Mohanty (Qx2Ggxqwz2)

    Dr. Devidutta Mohanty

    MBBS,MS, M. Ch- Plastic Surgery
    20 Yrs.Exp.

    4.5/5

    20 + Years

    Hyderabad

    Aesthetics and Plastic Surgeon

    Call Us
    6366-528-521
  • online dot green
    Dr. Ashish Sangvikar (9Mv4L2I495)

    Dr. Ashish Sangvikar

    MBBS, DNB- General Surgery, M.CH-Plastic Surgery
    18 Yrs.Exp.

    4.8/5

    18 + Years

    Mumbai

    Aesthetics and Plastic Surgeon

    Call Us
    6366-528-521
  • online dot green
    Dr. Sasikumar T (iHimXgDvNW)

    Dr. Sasikumar T

    MBBS, MS-GENERAL SURGERY, DNB-PLASTIC SURGERY
    18 Yrs.Exp.

    4.7/5

    18 + Years

    Chennai

    Aesthetics and Plastic Surgeon

    Call Us
    6366-528-521
  • लिपोमा क्या है?

    लिपोमा त्वचा के अंदर बनने वाली एक सौम्य गांठ है। इसमें एक जगह पर अतिरिक्त वसा जमा हो जाता है। लिपोमा शरीर के किसी भी भाग को प्रभावित कर सकता है, लेकिन अधिकतर मामलों में यह गर्दन, छाती, पीठ, कंधा, कूल्हा, जांघ और बांह के क्षेत्र को प्रभावित कर सकता है। मेडिकल विशेषज्ञों का मानना है कि यह समस्या शरीर के अंदर के अंग को भी प्रभावित कर सकती है।

    यहां आपको एक बात का खास ध्यान रखना होगा कि लाइपोमा से किसी भी प्रकार का कैंसर नहीं होता है। कुछ मामलों में लिपोमा उपचार की आवश्यकता नहीं होती है। यदि लिपोमा आपको परेशान कर रहा है या इसकी वजह से आपको दर्द का सामना करना पड़ रहा है तो आपको डॉक्टर से मिलकर लिपोमा होने का कारण ढूंढना चाहिए और सही समय पर उचित इलाज प्राप्त करना चाहिए। 

    लिपोमा की वजह से दर्द और परेशानी होने पर इसे बिल्कुल भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। ज्यादातर मामलों में एक व्यक्ति को 1-2 लिपोमा ही होते हैं, लेकिन दुर्लभ मामलों में किसी व्यक्ति को 4-5 या इससे भी अधिक लिपोमा हो सकते हैं।

    • बीमारी का नाम

    अतिरिक्त चर्बी

    • सर्जरी का नाम

    लिपोसक्शन

    • अवधि

    1 - 2 घंटे

    • सर्जन

    प्लास्टिक सर्जन या त्वचाविज्ञान सर्जन

    लिपोमा सर्जरी की कीमत जांचे

    ?

    ?

    ?

    ?

    ?

    वास्तविक कीमत जाननें के लिए जानकारी भरें

    i
    i
    i

    आपके द्वारा दी गई जानकारी सुनिश्चित करने के लिए कृप्या ओटीपी डालें *

    i

    लिपोमा होने का कारण

    विशेषज्ञों का मानना है कि लिपोमा होने का कारण अभी भी अज्ञात है। अधिकतर मामलों में लाइपोमा (Lipoma) होने का कारण आनुवंशिकता होता है। इसके अलावा, लिपोमा के कुछ संभावित कारण भी है, जैसे – 

    • किसी भी प्रकार का घाव होना
    • मोटापा और अधिक वजन 
    • हाई कोलेस्ट्रॉल 
    • ग्लूकोज इन्टॉलरेंस
    • डायबिटीज 
    • 40-60 के बीच की उम्र 
    • लिवर से संबंधित समस्या
    • अधिक शराब का सेवन 

    कुछ अन्य स्वास्थ्य स्थितियां होती है, जिनके कारण लिपोमा होने की संभावना बढ़ जाती है। लाइपोमा की संभावना होने पर जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। 

    क्या आप इनमें से किसी लक्षण से गुज़र रहे हैं?

    लिपोमा के लक्षण

    लिपोमा की पहचान कुछ लक्षणों से हो सकती है, जिसकी सहायता से आप यह पता कर सकते हैं कि आपको लिपोमा है या नहीं। आमतौर पर लिपोमा की पहचान एक छोटी और मुलायम गांठ के रूप में होती है। इस गांठ की चौड़ाई लगभग 1-2 इंच तक होना। इसके अतिरिक्त कुछ लक्षण है, जो लिपोमा का संकेत दे सकते हैं जैसे –

    • लिपोमा होने का कारण दर्द हो सकता है।
    • लिपोमा का विकास धीरे-धीरे होता है।
    • लिपोमा त्वचा के नीचे ही होता है। 
    • लिपोमा का रंग पीला या बेरंग होता है।
    • लिपोमा को उंगली से छूआ और हिलाया जा सकता है।
    • लिपोमा को छूने से वह मुलायम महसूस होता है।
    • कुछ मामलों में लिपोमा के कारण कब्ज की समस्या भी होती है।

    अगर आप अपने शरीर के किसी भी भाग में लिपोमा या ऊपर बताए गए लक्षणों का अनुभव करते हैं, तो आपको तुरंत डॉक्टर से मिलकर इस बारे में बात करनी चाहिए और आवश्यकता अनुसार इलाज लेना चाहिए।

    लिपोमा कितने प्रकार का होता है?

    लिपोमा कई प्रकार के होते हैं। चलिए सभी को एक एक करके समझते हैं – 

    • एंजियोलिपोमा: एंजियोलिपोमा वसा और रक्त वाहिकाओं से बनता है। इस प्रकार के लिपोमा के कारण रोगी को बहुत ज्यादा दर्द होता है। 
    • फाइब्रोलिपोमा: इस प्रकार का लिपोमा वसा और फाइबर टिश्यू से बनता है। 
    • पारंपरिक लिपोमा: इस प्रकार के लिपोमा में सफेद वसा कोशिकाएं (Fat cells) होती हैं। इन कोशिकाओं में ऊर्जा अधिक मात्रा में होती है। इस प्रकार का लिपोमा सबसे आम प्रकार का लिपोमा होता है।
    • मायलोलिपोमा: इस प्रकार का लिपोमा वसा और रक्त कोशिकाओं का निर्माण करने वाले ऊतकों से बना होता है। यह भी बहुत सारे लोगों को प्रभावित करता है। 
    • हाइबरनोमा: इस प्रकार का लिपोमा भूरे रंग के वसा से बना होता है। भूरे रंग के वसा कोशिकाएं गर्मी उत्पन्न करती हैं और शरीर के तापमान को नियंत्रित करने में मदद करती हैं।
    • स्पिंडल सेल: इस प्रकार का लिपोमा वसा कोशिकाओं से बनता है, जो एक व्यक्ति को अधिक प्रभावित कर सकता है। 
    • प्लेमॉर्फिक: इस प्रकार के लिपोमा में विभिन्न आकार की वसा कोशिकाएं होती हैं।

    लिपोमा के सभी मामलों में से 47.8% मामले साधारण लिपोमा के होते हैं और 26% मामले फाइब्रोलिपोमा के होते हैं। इसलिए हमेशा पहले समझें कि लिपोमा कितने प्रकार का होता है और फिर प्रकार के आधार पर इलाज की योजना बनाएं।

    सर्जरी के बाद प्रिस्टीन केयर द्वारा दी जाने वाली निःशुल्क सेवाएँ

    भोजन और जीवनशैली से जुड़े सुझाव

    सर्जरी के बाद मुफ्त चैकअप

    मुफ्त कैब सुविधा

    24*7 सहायता

    Top Health Insurance for Lipoma Surgery
    Insurance Providers FREE Quotes
    Aditya Birla Health Insurance Co. Ltd. Aditya Birla Health Insurance Co. Ltd.
    National Insurance Co. Ltd. National Insurance Co. Ltd.
    Bajaj Allianz General Insurance Co. Ltd. Bajaj Allianz General Insurance Co. Ltd.
    Bharti AXA General Insurance Co. Ltd. Bharti AXA General Insurance Co. Ltd.
    Future General India Insurance Co. Ltd. Future General India Insurance Co. Ltd.
    HDFC ERGO General Insurance Co. Ltd. HDFC ERGO General Insurance Co. Ltd.

    लिपोमा का डायग्नोस्टिक टेस्ट एंड इलाज

    डायग्नोस्टिक टेस्ट

    प्रारंभिक परामर्श के दौरान, डॉक्टर पहले शारीरिक जांच करते हैं और लाइपोमा के लक्षण की पहचान करते हैं। यदि डॉक्टर को सूजन या फिर किसी और समस्या का अंदेशा होता है, तो वह कुछ अन्य जांच का सुझाव भी दे सकते हैं। निम्नलिखित जांच का सुझाव डॉक्टर के द्वारा दिया जा सकता है – 

    • बायोप्सी: लिपोमा की वजह से कैंसर नहीं होता है, लेकिन यह उभार या सूजन कैंसर जैसी गंभीर समस्या का संकेत दे सकते है। कैंसर के विकास के लक्षणों को देखने के लिए त्वचा की गांठ के टिशू का सैंपल लिया जाता है और प्रयोगशाला में उसकी जांच की जाती है।
    • एक्स-रे: इस जांच के द्वारा त्वचा में गांठ की स्पष्ट तस्वीर मिल जाती है। 
    • एमआरआई: इस परीक्षण के द्वारा त्वचा में मौजूद अतिरिक्त वसा के स्थान की सटीक छवि बन जाती है। 
    • सीटी स्कैन: गंभीर मामलों में ही एमआरआई और सीटी स्कैन जैसे परीक्षण का सुझाव दिया जाता है। 

    इलाज

    आमतौर पर लिपोमा के शुरुआती चरणों में इलाज की आवश्यकता नहीं पड़ती है। लेकिन यदि आपको इससे परेशानी है, तो आप एक विशेषज्ञ डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए और इसका उचित इलाज प्राप्त करना चाहिए। 

    लिपोमा का इलाज एक डर्मेटोलॉजिस्ट या प्लास्टिक सर्जन के द्वारा किया जाता है। लिपोमा उपचार कई कारकों पर निर्भर करता है जैसे:-

    • लिपोमा का आकार
    • लिपोमा की संख्या
    • लिपोमा की गंभीरता
    • स्किन कैंसर की हिस्ट्री
    • स्किन कैंसर की फैमिली हिस्ट्री
    • लिपोमा में दर्द का होना

    इन कारकों के आधार पर इलाज के विकल्प पर चर्चा होती है। इलाज के लिए सर्जन अलग अलग विकल्प का सुझाव दे सकते हैं जैसे – 

    • सर्जरी: सर्जरी को लिपोमा का सबसे बेहतरीन इलाज माना जाता है। इस प्रक्रिया में सर्जन लिपोमा की गांठ को बड़े आराम से बाहर निकाल देते हैं। सर्जरी उन लोगों के लिए सबसे उत्तम इलाज साबित होता है, जो एक से अधिक लिपोमा की गांठ के निर्माण का सामना कर रहे हैं या फिर जिनके शरीर में लिपोमा का विकास काफी तेजी से हो रहा है। लिपोमा की सर्जरी को करने के लिए एनेस्थीसिया का प्रयोग किया जाता है। इसलिए इस सर्जरी के दौरान मरीज को जरा सा भी दर्द या दूसरी किसी तरह की भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है।
    • लिपोसक्शन: इस प्रक्रिया की मदद से भी लिपोमा का बेहतर इलाज संभव है। लिपोसक्शन के दौरान डर्मेटोलॉजिस्ट या प्लास्टिक सर्जन एक सर्जिकल वैक्यूम या बड़ी सिरिंज का उपयोग करते हैं। इस सिरिंज में सुई भी लगी होती है। लिपोसक्शन को शुरू करने से पहले लिपोमा से प्रभावित क्षेत्र को सुन्न कर दिया जाता है। उसके बाद, लिपोमा में मौजूद फैट को बहुत ही आसानी से सिरिंज की मदद से बाहर निकाल दिया जाता है।
    • स्टेरॉयड इंजेक्शन: स्टेरॉयड इंजेक्शन की मदद से भी लिपोमा का इलाज संभव है। इस प्रक्रिया को भी एनेस्थीसिया के प्रभाव में किया जाता है, जिसके कारण मरीज को इलाज के दौरान दर्द या दूसरी परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ता है। स्टेरॉयड इंजेक्शन की मदद से लिपोमा में मौजूद फैट को बाहर निकाल दिया जाता है, जिसके कारण लिपोमा सिकुड़कर छोटा हो जाता है। विशेषज्ञ मानते हैं कि स्टेरॉयड इंजेक्शन से लिपोमा का प्रभावशाली इलाज नहीं होता है। इससे लिपोमा पूरी तरह से खत्म नहीं होता है।

    लिपोमा का ऑपरेशन कैसे होता है?

    आमतौर पर लिपोमा के ऑपरेशन में लोकल एनेस्थीसिया का प्रयोग होता है, जिसका अर्थ है कि आप ऑपरेशन के दौरान आप होश में रहेंगे, लेकिन आपको दर्द महसूस नहीं होगा। लिपोमा का ऑपरेशन निम्नलिखित चरणों में होगा – 

    • सबसे पहले सर्जन लिपोमा की साइट पर एक छोटा चीरा लगाते हैं।
    • इसके पश्चात सर्जन लिपोमा को त्वचा से अलग करने का प्रयास करते हैं।
    • सर्जन लिपोमा को पूरी तरह से हटा देते हैं। लिपोमा को हटाने के लिए लिपोसक्शन का प्रयोग किया जा सकता है। 
    • सर्जरी खत्म होने के बाद चीरे को टांके से बंद कर दिया जाता है। 

    आमतौर पर लिपोमा ऑपरेशन एक घंटे में पूरा हो जाता है। लिपोमा की सर्जरी एक दिन की प्रक्रिया है, इसलिए सर्जरी के बाद मरीज को हॉस्पिटलाइजेशन की जरूरत नहीं पड़ती है। सर्जरी खत्म होने के कुछ ही घंटों के भीतर मरीज को हॉस्पिटल से डिस्चार्ज कर दिया जाता है। सर्जरी के मात्र 1 दिन बाद से ही मरीज अपने दैनिक जीवन के कामों को शुरू कर सकते हैं। हालांकि, सर्जरी के बाद पूरी तरह से ठीक होने में लगभग 1 सप्ताह का समय लग सकता है।

    सर्जरी के बाद, आपको कुछ दिनों के लिए दर्द और सूजन का अनुभव हो सकता है। आपके डॉक्टर के द्वारा कुछ दर्द निवारक दवाओं का सुझाव दिया जा सकता है। उनका समय पर सेवन करें।

    लिपोमा की सर्जरी में कितना खर्च आता है?

    आमतौर पर लिपोमा की सर्जरी का खर्च 35000-70000 रुपए तक आता है। लेकिन यह इस सर्जरी की अंतिम लागत नहीं है। इस सर्जरी के कुल खर्च में बदलाव आ सकता है, क्योंकि लिपोमा की सर्जरी का खर्च काफी चीजों पर निर्भर करता है।  इस सर्जरी को कई कारक प्रभावित कर सकते हैं जैसे – 

    • लिपोमा का आकार
    • लिपोमा की संख्या
    • सर्जरी का प्रकार
    • सर्जन का अनुभव
    • क्लीनिक की विश्वसनीयता
    • सर्जरी से पहले किए जाने वाले जांच

    वर्तमान में मेडिकल साइंस ने खूब तरक्की की है, जिसके कारण लिपोसक्शन सर्जरी से लिपोमा का परमानेंट इलाज संभव हो पाया है। वैसे तो लिपोमा का इलाज कई तरह से किया जाता है, लेकिन लिपोसक्शन सर्जरी को इसका बेहतर इलाज माना जाता है।

    अगर आप लिपोमा से परेशान हैं और कम से कम समय में बिना किसी परेशानी का सामना किए इससे हमेशा के लिए छुटकारा पाना चाहते हैं तो एक अनुभवी और कुशल प्लास्टिक सर्जन से परामर्श करने के बाद लिपोसक्शन सर्जरी का चुनाव कर सकते हैं। सर्जन सबसे पहले लिपोमा के होने का कारण पता करते हैं और उसी के आधार पर इलाज की योजना बनाते हैं। 

    क्या होगा यदि लिपोमा का इलाज न किया जाये ?

    यदि लिपोमा को लंबे समय तक छोड़ दिया जाए, तो यह गांठ बढ़ती जाएगी और रोगी को परेशान करेगी। हालांकि विकास दर धीमी होती है, लेकिन फिर भी इस गांठ के कारण दर्द का सामना करना पड़ सकता है। यह तब होता है, जब अतिरिक्त वसा के ऊतकों में रक्त वाहिकाएं होती हैं। जमा हुई चर्बी गांठ के भीतर की नसों के साथ-साथ नीचे की नसों को भी संकुचित करने लगती है, जिससे दर्द और परेशानी बढ़ जाती है। 

    इसके अलावा, लिपोमा का आकार जितना बड़ा होगा, आसपास के ऊतकों और तंत्रिकाओं को नुकसान पहुंचाए बिना इसे हटाना उतना ही मुश्किल होगा। इसलिए डॉक्टर अक्सर शुरुआती चरणों में लिपोमा का इलाज कराने का सुझाव देते हैं।

    यदि लिपोमा उपचार में देरी होगी या फिर किसी भी प्रकार की अनदेखी होगी, तो इसके कारण कैंसर की गांठ भी बन सकती है। यदि ऐसा होता है, तो यह आपके जीवन को गंभीर रूप से प्रभावित कर सकती है। इसलिए, लिपोमा के होने का कारण का पता लगाकर समय पर इलाज बहुत ज्यादा जरूरी है। 

    लिपोमा सर्जरी के बाद रिकवरी और परिणाम

    लिपोमा सर्जरी के बाद रिकवरी आमतौर पर थोड़ी धीरे होती है। अधिकांश लोग सर्जरी के बाद जल्दी घर लौट सकते हैं। एक सप्ताह या अधिक समय के लिए रोगी को आराम करने और भारी सामान उठाने और उन गतिविधियों को करने से बचने की आवश्यकता होगी, जिसमें उन्हें अधिक जोर लगाना पड़े।

    आमतौर पर लिपोमा सर्जरी के बाद पूर्ण रिकवरी में 6 से 8 सप्ताह लगते हैं। इस अवधि के दौरान, आप निम्नलिखित निर्देशों का पालन कर जल्द से जल्द रिकवर भी हो सकते हैं – 

    • अपने डॉक्टर के निर्देशों का पालन करें।
    • सर्जिकल साइट को साफ और सूखा रखें।
    • दर्द निवारक दवाएं लें 
    • उन कार्यों को करने से बचें, जिसमें आपको ज्यादा जोर लगाना पड़े
    • नियमित रूप से अपने डॉक्टर से चेकअप कराएं।

    लिपोमा का देसी इलाज

    लिपोमा का कोई इलाज नहीं है, लेकिन कई देसी उपचार है, जो आपकी  मदद कर सकते हैं। घरेलू उपचार से कुछ समय के लिए राहत मिल जाती है, लेकिन गांठ का रामबाण इलाज ऑपरेशन ही है। इन घरेलू उपचार से लाइपोमा की स्थिति थोड़ी बहुत राहत मिल जाती है – 

    • हल्दी और नीम का लेप: हल्दी और नीम दोनों ही एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरपूर होते हैं। यह गुण लिपोमा को छोटा करने और दर्द को कम करने में मदद कर सकते हैं।
    • लहसुन: लहसुन में एलिसिन नामक एक पदार्थ होता है, जो लिपोमा को खत्म करने में मदद कर सकता है।
    • एलोवेरा: एलोवेरा में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। यह गुण लिपोमा को छोटा करने और दर्द को कम करने में मदद कर सकते हैं।
    • सेब का सिरका: सेब का सिरका एसिडिक नेचर का होता है, जो लिपोमा को खत्म करने में मदद कर सकता है।
    • लिपोमा हटाने की क्रीम: लिपोमा हटाने की क्रीम एक ऐसी क्रीम है, जो लिपोमा को कम करने या हटाने का दावा करती है। हालांकि, इन क्रीमों की प्रभावशीलता को लेकर कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। कुछ मामलों में, इन क्रीमों से साइड इफेक्ट हो सकते हैं, जैसे त्वचा की जलन या खुजली। यदि आप लिपोमा से पीड़ित हैं, तो अपने डॉक्टर से बात करना सबसे अच्छा है। बिना उनसे परामर्श किए इलाज के लिए किसी भी क्रीम का प्रयोग न करें।

    घरेलु उपचार में आहार एक अहम भूमिका निभाता है। हमेशा इस बारे में विचार करना चाहिए कि लिपोमा में क्या नहीं खाना चाहिए और क्या खाना चाहिए। चलिए पहले समझते हैं कि लिपोमा में क्या नहीं खाना चाहिए।

    लिपोमा में क्या नहीं खाना चाहिए

    • प्रोसेस्ड फूड: प्रोसेस्ड फूड अक्सर अनहेल्दी फैट, चीनी और सोडियम में परिपूर्ण होते हैं। इन पोषक तत्वों का अधिक सेवन वजन बढ़ाने और लिपोमा के विकास के जोखिम को बढ़ा सकता है।
    • रेड मीट: रेड मीट में फैट और कैलोरी की मात्रा अधिक होती है। रेड मीट के अधिक सेवन से वजन बढ़ सकता है और लिपोमा के विकास के जोखिम को भी बढ़ा सकता है।
    • प्रोसेस्ड मीट: प्रोसेस्ड मीट में नाइट्रेट्स और नाइट्रोसैमिन्स नामक रसायन होते हैं। यह रसायन कैंसर के जोखिम को भी बढ़ा सकते हैं, जिसमें लिपोमा भी शामिल है।
    • शराब: शराब का सेवन वजन बढ़ने और लिपोमा के विकास के जोखिम का मुख्य कारण साबित हो सकता है। 

    लिपोमा में क्या खाना चाहिए

    • फल और सब्जियां: फल और सब्जियां विटामिन, खनिज और फाइबर का एक अच्छा स्रोत है। यह पोषक तत्व लिपोमा के विकास के जोखिम को कम करने में मदद कर सकता है।
    • होल ग्रेन: होल ग्रेन फाइबर का एक अच्छा स्रोत है। फाइबर वजन कम करने और स्वस्थ वजन बनाए रखने में मदद कर सकता है, जो लिपोमा के विकास के जोखिम को कम कर सकता है।
    • हेल्दी फैट: हेल्दी फैट, जैसे जैतून का तेल और अखरोट, हृदय स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं। वह लिपोमा के विकास के जोखिम को भी कम कर सकते हैं।
    • प्रोटीन: प्रोटीन मांसपेशियों के निर्माण और रिपेयर करने के लिए आवश्यक है। स्वस्थ मांसपेशियां लिपोमा के विकास के जोखिम को कम करने में मदद कर सकती हैं।

    लिपोमा से संबंधित अधिकतर पूछे जाने वाले प्रश्न

    क्या लिपोमा सर्जरी के बाद अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत पड़ सकती है?

    आमतौर पर लिपोमा हटाने की सर्जरी एक आउट पेशेंट प्रक्रिया के आधार पर की जाती है। इस प्रकार, अस्पताल में भर्ती की आवश्यकता नहीं है। उसी दिन मरीज को छुट्टी भी दे दी जाती है।

    क्या लिपोमा उपचार में बहुत बड़ा कट लगाया जाता है?

    नहीं, लिपोमा हटाने की सर्जरी में एक छोटा चीरा लगाया जाता है। यह प्रक्रिया मिनिमल इन्वेसिव है, जिसके कारण सर्जरी के दौरान बहुत छोटा कट लगाना पड़ता है। कुछ महीनों के बाद त्वचा ठीक होने लगेगी और निशान गायब हो जाएगा।

    क्या मुझे लिपोमा सर्जरी कराने के लिए काम से छुट्टी लेने की आवश्यकता है?

    लिपोमा की सर्जिकल प्रक्रिया पूरी करने के लिए डॉक्टर आपको काम से कम से कम एक दिन की छुट्टी लेने का सुझाव दे सकते हैं। आपको उसी दिन छुट्टी मिलने की संभावना है। हालांकि, आपको कम से कम एक दिन पूर्ण आराम की आवश्यकता होगी। आप अगले ही दिन अपने रोजाना के कामों को धीरे धीरे शुरू कर सकते हैं, लेकिन दर्द और असुविधा कुछ समय के लिए रहेगी।

    क्या एक साथ कई लिपोमा को हटाना संभव है?

    हां, एक साथ कई लिपोमा को हटाया जा सकता है। हालांकि, अगर लिपोमा की संख्या 5 से ऊपर है, तो सर्जन दूसरे प्रयास में बाकी के बचे हुए लिपोमा को हटाने का सुझाव दे सकते हैं। 

    लिपोमा उपचार में किस प्रकार के एनेस्थीसिया का उपयोग किया जाता है?

    लिपोमा की सर्जरी में लोकल या जनरल एनेस्थीसिया का प्रयोग किया जाता है। एनेस्थेटिस्ट रोगी के स्वास्थ्य के आधार पर सही प्रकार के एनेस्थीसिया का चयन किया जाता है।

    क्या लिपोमा का देसी इलाज संभव है?

    लिपोमा का देसी इलाज संभव ही नहीं है। हालांकि कुछ दवाएं दावा करती हैं कि उनसे लिपोमा का इलाज संभव है लेकिन ऐसा होना संभव नहीं है। इन उपचारों की प्रभावशीलता को लेकर कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। कुछ मामलों में, इन उपचारों से साइड इफेक्ट हो सकते हैं।

    green tick with shield icon
    Content Reviewed By
    doctor image
    Dr. Rohit Devdutt Bavdekar
    30 Years Experience Overall
    Last Updated : February 24, 2024

    लिपोमा सर्जरी के प्रकार

    लिपोमा एक्सिशन सर्जरी

    लिपोमा को हटाने का पारंपरिक तरीका है कि ऊपर की त्वचा को काट दिया जाए और एक ही बार में पूरी गांठ को हटा दिया जाए। 2 सेंटीमीटर से बड़े लिपोमा को हटाने के लिए लिपोमा एक्सिशन सर्जरी विधि को चुना जाता है। गांठ के चारों ओर एक छोटा सा कट बनाया जाता है और आसपास की मांसपेशियों और रक्त वाहिकाओं को नुकसान पहुंचाए बिना सभी वसायुक्त ऊतकों को सावधानी से निकाला जाता है।

    लिपोसक्शन

    लिपोमा की गांठ वसा ऊतकों से बनी होती है। इसलिए, लिपोसक्शन लिपोमा के लिए एक प्रभावी उपचार पद्धति है। इस विधि का उपयोग तब किया जाता है जब ट्यूमर का आकार लगभग 2 सेंटीमीटर से ज्यादा होता है। लिपोसक्शन का उपयोग वसा जमा को तोड़ने के लिए किया जाता है, और उन्हें वैक्यूम डिवाइस के माध्यम से बाहर निकाला जाता है। आमतौर पर, आधुनिक लेजर या अल्ट्रासाउंड-सहायता प्राप्त लिपोसक्शन का उपयोग प्रक्रिया को पूरा करने के लिए किया जाता है। लिपोमा को प्रभावी ढंग से हटाने के लिए, सर्जन वसायुक्त ऊतकों और ट्यूमर की दीवार को हटाने के लिए लिपोसक्शन और छांटना दोनों तकनीकों को जोड़ सकता है। इस पद्धति का संयोजन सर्जन को बड़े चीरों से बचने की अनुमति देता है जो शरीर पर निशान छोड़ सकते हैं। इस प्रकार, आजकल, अधिकांश प्लास्टिक सर्जन सौंदर्यशास्त्र को प्रभावित किए बिना लिपोमा के इलाज के लिए इन तकनीकों को जोड़ते हैं।

    हमारे मरीजों की प्रतिक्रिया

    Based on 7111 Recommendations | Rated 5 Out of 5
    • SB

      Swapnil bhoir

      5/5

      Rest care service is best

      City : MUMBAI
      Doctor : Dr. Rohit Mishra
    • SC

      Srikanth cheemala

      5/5

      I recently had a lipoma surgery, and i was highly impressed with the excellent care provided by the doctor. His friendly demeanor and effective communication made the experience pleasant, and the surgery was conducted painlessly. I would also like to express my gratitude to Ashwini from Pristyn Care team for her exceptional service.

      City : HYDERABAD
      Doctor : Dr. Jagadish Kiran
    • SU

      Sumit

      5/5

      Doctor explained very well

      City : BANGALORE
      Doctor : Dr. Kartik Adhitya
    • MW

      Manish wable

      5/5

      .

      City : BANGALORE
      Doctor : Dr. Rohit Mishra
    • MS

      Mariyappa S

      5/5

      Excellent treatment given

      City : BANGALORE
      Doctor : Dr. Abhishek Vijay Kumar
    • SR

      Srinivasan

      5/5

      I m very satisfied. And happy. Painless treatment. Thank u lot sir

      City : HYDERABAD
      Doctor : Dr. Jagadish Kiran