gynecomastia-treatment-without-surgery-in-hindi

गाइनेकोमैस्टिया पुरुषों को प्रभावित करने वाली एक सामान्य बीमारी है। यह अधिकतर युवावस्था या बुढ़ापे में प्रभावित करता है। गाइनेकोमैस्टिया को मैन बूब्स के नाम से भी जाना जाता है। इस बीमारी से पीड़ित पुरुष के स्तनों का आकार महिलाओं के स्तनों के आकार की तरह बढ़ जाता है।

यह समस्या आमतौर पर एस्ट्रोजन और प्रोजेस्ट्रोन नामक हार्मोन में असंतुलन होने के कारण होती है। गाइनेकोमैस्टिया महिलाओं के स्तनों के जैसा नहीं होता है, लेकिन उससे मिलता-जुलता तथा कई मामलों में उसके आकार का हो सकता है। 

गाइनेकोमैस्टिया पुरुष के पर्सनल और प्रोफेशनल दोनों ही जीवन को बूरी तरफ से प्रभावित कर सकता है। इससे पीड़ित लड़के अक्सर अपने दोस्तों के बीच मजाक का पात्र बनकर रह जाते हैं। इतना ही नहीं, यह लड़कों के आत्मविश्वास को भी काफी हद तक कम कर सकता है।

आमतौर पर इस बीमारी के बारे में जागरूकता नहीं होने के कारण, इससे पीड़ित पुरुष इस समस्या को इसकी शुरुआत में नजरअंदाज कर देते हैं। लेकिन जब यह गंभीर रूप ले लेता है तथा स्तनों का आकार बढ़ जाता है तो डॉक्टर से परामर्श करना आवश्यक हो जाता है। समय पर इसका सटीक इलाज कराने से इस समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है।

गाइनेकोमैस्टिया का इलाज कैसे किया जाता है?

हालांकि, सर्जरी गाइनेकोमैस्टिया का बेस्ट इलाज माना जाता है। लेकिन ऐसा जरूरी नहीं है कि हमेशा इसका इलाज सर्जरी से ही किया जाए। अगर गाइनेकोमैस्टिया अपनी शुरुआती स्टेज में है तो इसे घरेलू नुस्खों, दवाओं या एक्सरसाइज की मदद से भी ठीक किया जा सकता है। तो आइए जानते हैं कैसे (gynecomastia treatment without surgery in hindi) सर्जरी के बिना gynecomastia उपचार ​किया जा सकता है।

गाइनेकोमैस्टिया का घरेलू इलाज 

गाइनेकोमैस्टिया कोई बहुत ही गंभीर या जानलेवा बीमारी नहीं है। इसलिए आपको इसके बारे में जरूरत से अधिक सोचकर घबराने या डरने की जरूरत नहीं है। इसके इलाज के ढेरों तरीके हैं और उन्हीं में से एक तरीका घरेलू इलाज है।

सेंधा से ज्ञ्नेकोमास्टिया उपचार

सेंधा में भरपूर मात्रा में मैग्नीशियम पाया जाता है जो आपके शरीर को डिटॉक्सीफाई कर सकता है। पानी में सेंधा नमक मिलाकर नहाने से गाइनेकोमैस्टिया के लक्षण कम या खत्म हो जाते हैं। लेकिन ध्यान रहे कि जिन लोगों को ब्लड प्रेशर या कार्डियक डिसऑर्डर संबंधित बीमारियां हैं, उन्हें सेंधा नमक का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

ओमेगा 3 फैटी एसिड से ज्ञ्नेकोमास्टिया का इलाज

अगर आप सर्जरी के बिना ज्ञ्नेकोमास्टिया उपचार करना चाहते हैं तो ओमेगा 3 फैटी एसिड का इस्तेमाल कर सकते हैं। ओमेगा 3 फैटी एसिड पुरुष के शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन के लेवल को बढ़ाता है, जिससे गाइनेकोमैस्टिया के लक्षण धीरे-धीरे खत्म हो जाते हैं। इसलिए आप इसे अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं।

इसे पढ़ें: भारत में गाइनेकोमैस्टिया की सर्जरी में कितना खर्च आता है?

अलसी के तेल से गाइनेकोमैस्टिया का इलाज

अलसी के तेल का सेवन भी गाइनेकोमैस्टिया को दूर करने में मददगार साबित होता है। अगर आप घर बैठे गाइनेकोमैस्टिया का प्रभावशाली इलाज करना चाहते हैं तो अलसी के तेल को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं।

सोया से गाइनेकोमैस्टिया का इलाज

सोया में कुछ खास प्रकार के तत्व पाए जाते हैं जो गाइनेकोमैस्टिया को ठीक करने में बड़ी भूमिका निभा सकते हैं। मैन बूब्स से छुटकारा पाने के लिए आपको डेयरी दूध की जगह सोया को अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए।

हल्दी से गाइनेकोमेस्टिया का उपचार

हम सबको मालुम है कि हल्दी औषधीय गुणों से भरपूर होता है। हल्दी का सेवन पुरुष के शरीर में टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाता है, जिससे गइनेकोमैस्टिया दूर हो जाता है।

इतना ही नहीं, गाइनेकोमैस्टिया के घरेलू नुस्खों में गुग्गुल का नाम भी शामिल है। इसलिए कुछ दिनों तक आप इस जड़ी बूटी का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

गाइनेकोमैस्टिया की दवा

सर्जरी के बिना ज्ञ्नेकोमास्टिया उपचार संभव है। क्योंकि इसका इलाज करने की ढेरों दवाएं और क्रीम बाजार में मौजूद हैं, जिनकी मदद से आप अपनी समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। गाइनेकोमैस्टिया की एलोपैथिक दवाओं में दानजोल (Danazol), सिलेक्टिव एस्ट्रोजन रिसेप्टर मॉड्यूलेटर (SERM), क्लोमीफीन (Clomiphene), और  टेमोक्सीफेन (Tamoxifen) शामिल हैं।

गाइनेकोमैस्टिया की आयुर्वेदिक दवाओं में रेड क्लोवर (Red Clover), डेविल्स क्लॉ (Devil’s Claw), मिल्क थीस्ल (Milk Thistle), और गुग्गुल (Guggul) का नाम शामिल है।

गाइनेकोमैस्टिया की होम्योपैथिक दवाओं में कोनियम मैक 200 (Conium 200), फाइटोलेका 200 (Phytolacca 200), बैक्सन बी 36 (Bakson B 36), कैल्केरिया फॉस 6x (Calcarea Phos 6x), काली म्यूर 6x और योहिम्बीनम क्यू  (Kali Mur 6x & Yohimbinum Q) आदि शामिल हैं।

ऊपर बताई गई दवाओं की मदद से आप अपनी परेशानी को काफी आसानी से दूर और अपने आत्मविश्वास को मजबूत बना सकते हैं। लेकिन ध्यान रहे कि आप डॉक्टर से परामर्श करने के बाद ही किसी भी प्रकार की दवा का इस्तेमाल करें।

और पढ़ें: गइनेकोमैस्टिया का होम्योपैथिक इलाज

डॉक्टर आपकी बीमारी की गंभीरता और आपकी सेहत से संबंधित दूसरी खास चीजों को ध्यान में रखते हुए दवा और उसकी खुराक का फैसला करते हैं। अपने मन मुताबिक किसी भी दवा का सेवन आपके लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है।

इतना ही नहीं, दवाओं के सेवन के दौरान उनकी खुराक में किसी प्रकार का बदलाव करने से भी बचना चाहिए तथा दवा के कोर्स को डॉक्टर के बताए अनुसार पूरा करना चाहिए।

गाइनेकोमैस्टिया के लिए एक्सरसाइज 

गाइनेकोमैस्टिया का इलाज जीवनशैली में सकारात्मक बदलाव लाकर भी किया जा सकता है। अगर आप गाइनेकोमैस्टिया से पीड़ित हैं तो कुछ एक्सरसाइज का अभ्यास कर इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

ये एक्सरसाइज गाइनेकोमैस्टिया के लक्षणों को दूर करते हैं और आपको दूसरे भी ढेरों फायदे पहुंचा सकते हैं। गाइनेकोमैस्टिया के लिए पुशअप बर्पीज़, रेसिस्टेंस बैंड, पुशअप, शैडो बॉक्सिंग, डंबेल फ्लाई, इंटरवल ट्रेनिंग आदि बहुत ही प्रभावशाली माने जाते हैं।

नियमित रूप से कुछ सप्ताह तक ऊपर बताए गए एक्सरसाइज का अभ्यास करने पर गाइनेकोमैस्टिया से छुटकारा मिल सकता है।

ऊपर बताए गए उपायों से फायदा नहीं होने पर क्या करें?

अगर ऊपर बताए गए घरेलू नुस्खों या दवाओं का इस्तेमाल और एक्सरसाइज का अभ्यास करने के बाद भी आपको कोई फायदा दिखाई न दे तो फिर आपको तुरंत एक अनुभवी और भरोसेमंद प्लास्टिक सर्जन से मिलकर अपनी जांच और इलाज करानी चाहिए।

गाइनेकोमैस्टिया सात प्रकार के होते हैं। इसलिए यह आवश्यक है कि आप डॉक्टर से मिलकर इसके प्रकार और गंभीरता के बारे में पता करें। जैसा कि हमने ऊपर ही आपको बताया कि गाइनेकोमैस्टिया गंभीर होने पर सर्जरी ही इसका एकमात्र इलाज बचता है।

कई बार पर गाइनेकोमैस्टिया की स्थिति गंभीर होने पर घरेलू नुस्खों या दवाओं का इस्तेमाल बेअसर साबित होता है। ऐसे में सर्जरी ही सबसे बेस्ट विकल्प बचता है।

लिपोसक्शन गाइनेकोमैस्टिया का सबसे बेस्ट सर्जिकल इलाज माना जाता है। यह एक कॉस्मेटिक सर्जरी जिसकी मदद से शरीर में मौजूद बेकार चर्बी को बाहर निकाला जाता है। लिपोसक्शन के जरिए शरीर के कई हिस्सों से चर्बी को कम किया जा सकता है।

अपने शहर के बेस्ट क्लिनिक में मात्र एक दिन में गाइनेकोमैस्टिया से छुटकारा पाएं

अगर आप हर तरह के इलाज की प्रक्रियायों को अपनाकर थक चुके हैं, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ है तो तुरंत प्रिस्टीन केयर से संपर्क करें। हमारे क्लिनिक में मॉडर्न और एडवांस लिपोसक्शन सर्जरी से गाइनेकोमैस्टिया का इलाज किया जाता है।

इस सर्जरी को एक अनुभवी और विश्वसनीय प्लास्टिक सर्जन के द्वारा पूरा किया जाता है। हमारे प्लास्टिक सर्जन को गाइनेकोमैस्टिया की गहरी समझ और एडवांस लिपोसक्शन सर्जरी में महारत हासिल है। ये सर्जन अब तक गाइनेकोमैस्टिया की हजारों सफल लिपोसक्शन सर्जरी कर चुके हैं।

दूसरे क्लिनिक या हॉस्पिटल की तुलना में हम अपने क्लिनिक में गाइनेकोमेस्टिया की लिपोसक्शन सर्जरी को काफी कम खर्च में पूरा करते हैं। इतना ही नहीं, कम से कम खर्च में गाइनेकोमैस्टिया का बेस्ट इलाज करने के साथ-साथ अपने मरीजों को ढेरों सुविधाएं भी प्रदान करते हैं।

इसमें गाइनेकोमैस्टिया की सर्जरी वाले दिन फ्री कैब फैसिलिटी जो सर्जरी से पहले मरीज को घर से हॉस्पिटल लाती है और सर्जरी के बाद हॉस्पिटल से घर छोड़ती है, सभी डायग्नोस्टिक टेस्ट पर 30% तक की छूट और सर्जरी के बाद डॉक्टर के साथ फ्री फॉलो-अप्स की सुविधाएं आदि शामिल हैं।

गाइनेकोमैस्टिया की लिपोसक्शन सर्जरी के क्या फायदे हैं?

गाइनेकोमेस्टिया की लिपोसक्शन को शुरू करने से पहले प्लास्टिक सर्जन मरीज को एनेस्थीसिया देते हैं। इससे सर्जरी के दौरान होने वाले दर्द का खतरा खत्म हो जाता है। उसके बाद, सर्जन मरीज के एरिओला के आसपास छोटे-छोटे कट लगाते हैं। फिर एक मेटल कैनुला की मदद से वहां मौजूद एक्स्ट्रा फैट को बाहर निकल देते हैं।

लिपोसक्शन सर्जरी को पूरा होने में लगभग आधे घंटे का समय लगता है। यह एक दिन की प्रक्रिया है, इसलिए सर्जरी के बाद मरीज को हॉस्पिटलाइजेशन की जरूरत भी नहीं पड़ती है। सर्जरी खत्म होने के कुछ ही घंटों के बाद मरीज को डिस्चार्ज कर दिया जाता है।

इसे पढ़ें: लिपोसक्शन सर्जरी के क्या फायदे हैं?

गाइनेकोमैस्टिया की लिपोसक्शन सर्जरी के 2-3 दिनों के बाद मरीज अपने दैनिक जीवन के कामों को शुरू कर सकते हैं। लेकिन इस सर्जरी के बाद पूरी तरह से ठीक होने में लगभग 1-2 सप्ताह का समय लगता है।

लिपोसक्शन का रिजल्ट काफी जल्दी और बेहतर आता है। अगर आप ज्ञ्नेकोमास्टिया सर्जरी साइड इफेक्ट के बारे में सोच रहे हैं तो आपको ज्यादा टेंशन लेने की जरूरत नहीं है। क्योंकि लिपोसक्शन सर्जरी के दौरान या बाद में साइड इफेक्ट्स या जटिलताओं का खतरा लगभग शून्य होता है। जबकि इसकी सफलता दर 99% है। अगर आप कम से कम खर्च और समय में गाइनेकोमैस्टिया का बेस्ट और परमानेंट इलाज चाहते हैं तो अभी हमसे संपर्क करें।

और पढ़ें