home-remedies-for-breast-tightening-in-hindi

लड़कियों की सुंदरता, आकर्षक लुक और परफेक्ट बॉडी शेप में स्तनों की खास भूमिका होती है। हर लड़की की ख्वाहिश होती है कि उसके स्तन टाइट और सुडौल हों, लेकिन कई कारणों जैसे कि उम्र बढ़ने, खराब यानी छोटे या बड़े ब्रा पहनने, शिशु को जन्म देने और ब्रेस्टफीडिंग करने, शरीर में अधिक चर्बी जमने तथा दूसरे और भी ढेरों कारणों से स्तनों में ढीलापन आ जाता है और वे नीचे की तरफ लटक जाते हैं। इतना ही नहीं, बहुत सी ऐसी बीमारियां भी हैं जो स्तनों के ढीलेपन का कारण बनती हैं। इनमें मेनोपॉज, ब्रेस्ट कैंसर, सांस से संबंधित कोई बीमारी जैसे कि टीबी या अचानक से वजन बढ़ना या घटना आदि शामिल हैं।

स्त्री रोग विशेषज्ञ के अनुसार, स्तनों के ढीलेपन को दूर करने के लिए घरेलू नुस्खों का उपयोग अप्रभावी और हानिकारक साबित हो सकता है। क्योंकि घरेलू नुस्खों की विश्वसनीयता नहीं होती है। ढीले स्तनों को फिर से टाइट और सुडौल बनाने के लिए ब्रेस्ट लिफ्ट सर्जरी सबसे बेस्ट तरीका माना जाता है। अगर आप अपने ढीले स्तनों को फिर से कसा हुआ और सुडौल बनाना चाहती हैं तो हमारी क्लिनिक में ब्रेस्ट लिफ्ट सर्जरी करा सकती हैं। हमारे एक्सपर्ट से फ्री परामर्श (Free Consultation) के लिए इस ब्लॉग के ऊपर दायीं तरफ दिए गए मोबाइल नंबर या बुक अप्वाइनमेंट बटन का इस्तेमाल करें।

इसे पढ़ें: स्तन लिफ्ट सर्जरी — उपचार, प्रक्रिया, जोखिम, फायदे, नुकसान और लागत

ढीले और लटके हुए स्तनों को टाइट और सुडौल बनाने के लिए लड़कियां और महिलाएं तरह-तरह की क्रीम, दवाओं और इलाज का सहारा लेती हैं। प्रिस्टीन केयर के इस ब्लॉग के जरिए हम आपको उन खास घरेलू उपायों के बारे में बताने वाले हैं, जिनकी मदद से आप घर बैठे अपने ढीले स्तनों को फिर से टाइट और सुडौल बना सकती हैं। अगर आप भी ढीले स्तनों से परेशान हैं तो यह ब्लॉग खास आपके लिए है।      

अनार के छिलके का इस्तेमाल 

अनार के छिलके का इस्तेमाल ढीले स्तनों के लिए बहुत प्रभावशाली और फायदेमंद होता है। इसका इस्तेमाल करने के लिए आप अनार के छिलकों का लेप तैयार करें और फिर रोजाना रात को सोने से पहले उस लेप को अपने स्तनों पर लगाएं। लगे हुए लेप को 2-3 घंटों के बाद या अगली सुबह पानी से अच्छी तरह से धो लें। कुछ सप्ताह तक लगातार ऐसा करने से आपके स्तनों का ढीलापन काफी हद तक दूर हो जाता है और आपके स्तन पहले की तुलना में अधिक टाइट और सुडौल दिखाई पड़ते हैं।     

अंडे और खीरे का इस्तेमाल 

स्तनों को टाइट करने वाले घरेलू उपायों में अंडा और खीरा भी शामिल हैं। अगर आप अपने स्तनों को कसा हुआ और सुडौल बनाना चाहती हैं तो अंडे की जर्दी और खीरा के गुद्दे को मिक्सर में डालकर इनके मिश्रण का एक लेप तैयार करें। लेप अच्छी तरह से तैयार होने के बाद उसे अपने स्तनों पर लगाएं और पूर्ण रूप से सूखने तक छोड़ दें। जब यह अच्छी तरह से सुख जाए तब इसे पानी से धो दें। नियमित रूप से कुछ दिनों तक इस लेप का इस्तेमाल करने से स्तनों में कसाव आता है तथा वे पहली से अधिक सुडौल भी हो जाते हैं। 

इसे पढ़ें: मोतियाबिंद का घरेलू उपचार

अंडे का सफेद वाला हिस्सा भी स्तनों को टाइट करने में बड़ी भूमिका निभा सकता है। आप चाहें तो अंडे को फोड़ने के बाद उसके सफेद हिस्से को अपने स्तनों पर चारों तरफ अच्छी तरह से लगाएं और फिर सूखने के बाद उसे ठंडे पानी से धो लें। केवल अंडे के सफेद हिस्से का इस्तेमाल करने से भी स्तनों का ढीलापन दूर होता है और यह पहले से सुडौल और खूबसूरत दिखाई पड़ते हैं।

प्याज का इस्तेमाल 

प्याज भी स्तनों में कसावट लाने और उन्हें सुडौल बनाने वाले प्रभावशाली घरेलू उपचारों में से एक है। अगर आपके स्तन भी ढीले और लटके हुए हैं तो आपको अधिक घबराने कि जरूरत नहीं है, क्योंकि प्याज की मदद से आप घर बैठे अपने स्तनों को टाइट और सुडौल बना सकती हैं। इसके लिए आपको बस एक प्याज के छोटे-छोटे टुकड़े करने हैं और फिर उन्हें पानी में डालकर छोड़ देना है। जब प्याज का रस पानी में मिल जाए तब उस पानी से अपने स्तनों को अच्छी तरह से धोएं एवं साफ करें। नियमित रूप से इस विधि का पाला करने से आपके स्तनों के ढीलेपन की समस्या खत्म हो जाएगी।

बर्फ का इस्तेमाल 

बर्फ का इस्तेमाल भी स्तनों को टाइट और सुडौल बनाने में कारगर साबित होता है। अगर आप ढीले ब्रेस्ट से परेशान हैं तो अपने ब्रेस्ट को टाइट करने के लिए बर्फ का इस्तेमाल कर सकती हैं। इसके लिए आपको नियमित रूप से अपने स्तनों की बर्फ से सिकाई करनी चाहिए। नंगे बर्फ को या फिर उसे एक सूती कपड़े में रखकर आप अपने स्तनों की सिकाई कर सकती हैं। यह भी स्तनों को टाइट करने में उपयोगी और फायदेमंद होता है।

इसे पढ़ें: टांसिलाइटिस के घरेलू इलाज

माजूफल का इस्तेमाल 

माजूफल को अच्छी तरह से पानी में पीसकर उसमें शहद मिलाएं और इसका लेप तैयार करें। लेप तैयार करने के बाद उसे अपने स्तनों पर चारों तरफ अच्छी तरह से लगाएं और सूखने के लिए छोड़ दें। 2-3 घंटों के बाद जब वह अच्छी तरह से सुख जाए तो उसे पानी से धोएं और रात को सोने से पहले बादाम रोगन तेल से अपने स्तनों की मालिश भी करें। कुछ सप्ताह तक ऐसा करने से आपके स्तनों में कसावट आती है और वे पहले की तुलना में अधिक सुडौल और आकर्षक बन जाते हैं।      

जैतून के तेल और गाय के दूध का इस्तेमाल 

जैतून के तेल में गाय के दूध को मिलाकर एक गाढ़ा लेप तैयार करें और फिर उसे अपने स्तनों पर लगाएं। कुछ सप्ताह तक नियमित रूप से ऐसा करने से आपके स्तनों में कठोरता आती है तथा ये पहले से अधिक आकर्षक और खूबसूरत बन जाते हैं। अगर आप घर बैठे अपने स्तनों के ढीलेपन को दूर करना चाहती हैं तो जैतून का तेल और गाय के दूध से मिलकर बना लेप आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है। 

इसे भी पढ़ें: भगंदर का घरेलू उपचार  

इन सब अलावा भी ढेरों ऐसे घरेलू नुस्खे हैं जिनकी मदद से आप अपने स्तनों को टाइट और सुडौल बना सकती हैं। अगर ऊपर बताए गए घरेलू उपायों का इस्तेमाल करने के बाद भी आपको कोई फायदा दिखाई न दे तो आपको स्त्री रोग विशेषज्ञ से मिलकर इस बारे में बात करनी चाहिए। प्रिस्टीन केयर के पास देश के सबसे बेहतरीन और अनुभवी स्त्री रोग विशेषज्ञ (Gynaecologists) हैं जो आपकी परेशानियों को मात्र कुछ ही दिनों में हमेशा के लिए ठीक कर सकती हैं। अगर आप अपने स्तनों को टाइट, सुडौल और आकर्षक बनाने की ख्वाहिश रखती हैं तो अभी हमसे संपर्क करें। हम आपसे बस एक फोन कॉल की दूरी पर हैं।       

और पढ़ें