No Cost EMI Available

+

Let's Schedule your Appointment

USFDA Approved Procedures - Pristyn CareUSFDA
Approved Procedures
No Cuts. No Wounds. Painless*. - Pristyn CareNo Cuts.
No Wounds.
Painless*.
Insurance Paperwork Support - Pristyn CareInsurance
Paperwork Support
1 Day Procedure - Pristyn Care1 Day
Procedure

अनियमित माहवारी क्या है?

  • आमतौर पर महिला की पीरियड साइकिल 28 से 32 दिनों की होती है और पीरियड 2 से 8 दिनों तक चलता है, लेकिन जब पीरियड्स या माहवारी समय पर नहीं होता है तो उसे अनियमित माहवारी कहते हैं। माहवारी को अनियमित तब कहा जाएगा, जब- पीरियड्स कम या ज्यादा दिनों तक आता है
  • दो पीरियड्स के बीच का समय बढ़ या घट जाना
  • यदि ब्लीडिंग सामान्य से अधिक गाढ़ा या पतला हो

अपॉइंटमेंट बुक करें

No image available
resend

ओवरव्यू

TAGS

जोखिम

एंडोमेट्रियोसिस

यूटेराइन फायब्रोइड्स

गर्भावस्था में जटिलताएं

एसटीडी या एसटीआई

Pristyn Care ही क्यों?

जांच में 30 प्रतिशत की भारी छूट

आरामदायक कमरे में इलाज

एडवांस उपकरणों से जाँच और इलाज

अनुभवी सर्जन

फ्री फॉलो-अप

उपचार

Female consulting gynecologist for irregular periods

निदान

  • अनियमित माहवारी का पता लगाने के लिए स्त्री रोग विशेषज्ञ महिला से उसके पुराने चिकित्सा इतिहास और मासिक धर्म चक्र (पीरियड साइकिल) का पता लगाते हैं।एनीमिया या अन्य डिसऑर्डर का पता लगाने के लिए डॉक्टर ब्लड टेस्ट कर सकते हैं, इससे खून में हीमोग्लोबिन की मात्रा का पता चल जाता है। यदि महिला के शरीर में खून की कमी है तो उसे पीरियड्स में कम रक्तस्त्राव होता है या फिर पीरियड्स नहीं होता है।
  • किसी प्रकार के इन्फेक्शन का पता लगाने के लिए डॉक्टर वजाइनल कल्चर करते हैं।
  • यूटेराइन फाइब्रॉइड्स, पॉलिप्स या ओवेरियन सिस्ट का पता लगाने के लिए डॉक्टर पेल्विक अल्ट्रासाउंड या पेल्विक सीटी स्कैन करते हैं।
  • किसी प्रकार के कैंसर सेल्स का पता लगाने के लिए डॉक्टर एंडोमेट्रियम बायोप्सी भी कर सकते हैं।
  • एंडोमेट्रियम टिश्यू का सैंपल लेने के लिए डॉक्टर लेप्रोस्कोप का उपयोग करते हैं।

उपचार

कई बार अनियमित पीरियड्स होने का कारण शरीर में खून की कमी या अन्य सामान्य कारण होते हैं, जिसे निदान के बाद डॉक्टर कुछ दवाइयों की मदद से ठीक कर देते हैं, लेकिन कई बार अनियमित माहवारी होने के पीछे का कारण एंडोमेट्रियोसिस, फायब्रॉइड्स, पीसीओएस आदि हो सकते हैं। ऐसी स्थिति में डॉक्टर कुछ प्रकार की सर्जरी कर सकते हैं। आमतौर पर इन समस्याओं (एंडोमेट्रियोसिस, फायब्रॉइड्स, पीसीओएस) के होने पर इनके कारण होने वाली जटिलताओं (कैंसर भी जटिलताओं में से एक है) से बचने के लिए इन्हें प्रजनन अंग से अलग कर देना उचित होता है। इसके लिए डॉक्टर हिस्टेरेक्टॉमी की प्रक्रिया करते हैं। हिस्टेरेक्टॉमी में गर्भाशय या उसके किसी एक हिस्से को हटा दिया जाता है।

mobile in hand ABHA Pristyn Carehrithik roshan image pointing to download pristyncare mobile app

अधिकांश पूछे जाने वाले प्रश्न

मुझे अनियमित माहवारी की समस्या है, लेकिन मुझे लगता है कि मैं गर्भवती हूँ, ऐसी स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

expand icon

अगर मैं अनियमित माहवारी से पीड़ित हूँ तो क्या मुझे अपने पीरियड्स को ट्रैक करना चाहिए?

expand icon

अनियमित माहवारी के लिए किस प्रकार की जीवनशैली जिम्मेदार होती है?

expand icon

यदि अचानक से 3 महीने से पीरियड नहीं आ रहा है तो मुझे क्या करना चाहिए?

expand icon

क्या दिल्ली, बैंगलोर जैसे मेट्रो शहरों में अत्यधिक व्यस्त जीवन शैली अनियमित माहवारी का कारण बन सकती है?

expand icon

मेट्रो शहरों में अनियमित माहवारी के लिए सबसे अच्छा स्त्री रोग विशेषज्ञ कौन है?

expand icon

अनियमित माहवारी से जुड़े कुछ तथ्य

  • शोध से पता चलता है कि 14-18 आयु वर्ग की किशोरावस्था वाली लड़कियों (जो वायु प्रदूषण के संपर्क में रहती हैं) में अनियमित माहवारी की संभावना अधिक होती है।
  • जब अनियमित माहवारी को अनुपचारित छोड़ दिया जाता है, तो यह अन्य स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं, जैसे बांझपन, पीसीओएस आदि का कारण बन सकता है।

अनियमित माहवारी का उपचार करने के लिए आयुर्वेदिक दवाइयाँ

  • वात विकार के लिए- शतावरी, अश्वगंधा, दशमूलारिष्ट, अरंडी का तेल और घी का नियमित सेवन करें।
  • पित्त विकार के लिए- सारिवा, मंजिष्ठा,एलोवेरा रक्त के प्रवाह को आसान बनाता है।
  • कफ विकार के लिए- अदरक, दालचीनी, इलायची और काली मिर्च ब्लॉकेज एवं भारीपन को दूर करने में मदद करते हैं।कुछ अन्य जड़ी बूटियाँ जो अनियमित मासिक धर्म को ठीक करने में मदद करती हैं- अशोक
  • चंदन
  • लोधरा
  • हिबिस्कस
  • हिंग
  • नद्यपान

अनियमित माहवारी का होम्योपैथिक उपचार

  • अनियमित माहवारी से राहत पाने के लिए, डॉक्टर अक्सर निम्नलिखित होम्योपैथिक दवाओं को लिखते हैं- पीरियड्स आने में देरी होने के लिए, डॉक्टर पल्सेटिला (Pulsatilla) या नैट्रम म्यूर (Natrum Mur) की सलाह देते हैं।
  • हार्मोनल संतुलन बनाए रखने के लिए, सीपिया (sepia) का सेवन करने को कहा जाता है।
  • कम माहवारी या माहवारी में देरी होने पर कोनियम (conium) की सलाह दी जाती है।ऐसी ही बहुत सारी होम्योपैथिक दवाइयाँ हैं, जिन्हें अनियमित माहवारी का उपचार करने के लिए उपयोग में लाया जा सकता है।
+ Read More

अपॉइंटमेंट बुक करें

No image available
resend

अपॉइंटमेंट बुक करें

No image available
resend
Pristyn Care© 2022 by PRISTYN CARE Download Pristyn Care App
iconiconiconicon